© Getty Images
© Getty Images

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज वेर्नोन फिलेंडर ने जोर देते हुए कहा है कि भारत के खिलाफ होने वाले तीसरे और आखिरी टेस्ट मैच को मेजबान टीम हल्के में नहीं लेगी क्योंकि उसकी नजरें नंबर-1 टेस्ट टीम की कुर्सी पर कब्जा जमाने पर है। मेजबान टीम तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त लिए हुए है। तीसरे मैच में जीत उसे आईसीसी टेस्ट टीम रैंकिंग में भारत के बराबर ले जाएगी हालांकि भारत दशमलव अंकों में आगे होने के कारण पहले स्थान पर ही बना रहेगा।

इसके बाद दक्षिण अफ्रीका को मार्च में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज खेलनी है और अगर इसमें इस चार टेस्ट मैचों की सीरीज में जीत हासिल कर लेती है तो वह नंबर-1 की कुर्सी पर आ जाएगी। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीसरा मैच बुधवार से वांडरर्स में शुरू हो रहा है। मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में फिलेंडर ने कहा, “हम हर टेस्ट मैच जीतना चाहते हैं। हमारे लिए डेड रबर कोई मैच नहीं होता, हम इसके लिए तैयारी करेंगे।”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में क्लीन स्वीप से बचने के लिए टीम इंडिया को लगाना होगा पूरा जोर
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में क्लीन स्वीप से बचने के लिए टीम इंडिया को लगाना होगा पूरा जोर

फिलेंडर ने कहा कि चार दिनों के आराम से खिलाड़ी काफी तरोताजा महसूस कर रहे हैं। इस तेज गेंदबाज ने कहा, “जब आप लगातार टेस्ट मैच खेलते हो तो यह मुश्किल होता है। चार दिन का ब्रेक हर किसी के लिए आसान होता है। हर खिलाड़ी को खेल से बाहर सोचने का समय मिला।” दक्षिण अफ्रीका ने पहला मैच 72 रनों से जीता था वहीं दूसरे टेस्ट मैच में 135 से जीत हासिल की थी। दोनों जीतों में फिलेंडर ने अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने कहा, “आपका रोल हमेशा अलग-अलग पिचों पर बदलता रहता है। मैं इस खेल में अपने रोल को जनाता हूं। पिछले मैच में मैं समझ गया था कि मेरा काम रन रोकना है ताकि दूसरे छोर से विकेट मिलें। मैंने अभी तक यहां के स्थितियों को नहीं देखा है।”