© AFP
© AFP

दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर भले ही टीम इंडिया एक जीत के लिए तरस गई हो लेकिन उसके कप्तान विराट कोहली ने एक वर्ल्ड रिकॉर्ड जरूर अपने नाम कर लिया है। विराट कोहली सबसे ज्यादा टेस्ट मैचों में अलग-अलग प्लेइंग इलेवन उतारने वाले कप्तान बन गए हैं। विराट कोहली ने जोहान्सबर्ग टेस्ट में अपनी प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव किए। उन्होंने आर अश्विन की जगह भुवनेश्वर कुमार और रोहित शर्मा की जगह अजिंक्य रहाणे को टीम में जगह दी। इसके साथ ही विराट कोहली ने लगातार 35 टेस्ट मैचों में अलग-अलग प्लेइंग इलेवन उतारने का कारनामा कर दिया।

इससे पहले ये रिकॉर्ड बांग्लादेश के कप्तान मुश्फिकुर रहीम के नाम था जिन्होंने 34 टेस्ट मैचों में अलग प्लेइंग इलेवन खिलाई थी। इससे पहले इंग्लैंड के पूर्व कप्तान रे इलिंगवर्थ ने 31 और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने 25 टेस्ट मैचों में अपनी प्लेइंग इलेवन बदली थी। मगर विराट इन सभी कप्तानों से आगे निकल गए हैं।

जोहान्सबर्ग टेस्ट: टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करेगा भारत; अजिंक्य रहाणे, भुवनेश्वर कुमार ने की वापसी
जोहान्सबर्ग टेस्ट: टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करेगा भारत; अजिंक्य रहाणे, भुवनेश्वर कुमार ने की वापसी

प्लेइंग इलेवन बदलने पर उठे थे सवाल

सेंचुरियन टेस्ट में हार के बाद एक पत्रकार ने विराट कोहली के बार-बार प्लेइंग इलेवन बदलने पर सवाल खड़े कर दिए थे जिसके बाद विराट कोहली भड़क गए थे। कई विशेषज्ञ भी विराट के इस फैसले पर सवाल खड़े कर चुके हैं, ऐसा कहा जा रहा है कि विराट कोहली को अबतक सही प्लेइंग इलेवन नहीं मिल पाई है जिस वजह से वो हर टेस्ट में प्लेइंग इलेवन बदलने को मजबूर हैं। हालांकि विराट कोहली कहते हैं कि वो पिच और हालात देखकर ही टीम में खिलाड़ियों को मौका देते हैं।