India vs South Africa: Don’t know how the captaincy will affect my game, says Quinton De kock
क्विंटन डी कॉक (IANS)

दक्षिण अफ्रीका के नए टी20 कप्तान क्विंटन डी कॉक का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि इस नई जिम्मेदारी का उन पर नकारात्मक असर पड़ेगा या सकारात्मक लेकिन वो इस बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे।

फाफ डु प्लेसिस की गैरमौजूदगी में टीम के सीनियर खिलाड़ियों में से एक डिकाक को कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है क्योंकि टीम प्रबंधन अगले साल होने वाले टी20 विश्व कप से पूर्व उन्हें निखारना चाहता है।

इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने बुधवार को यहां भारत के खिलाफ होने वाले दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच की पूर्व संध्या पर प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो ज्यादा परेशान नहीं हूं। ये मेरे करियर का नया मील का पत्थर है, मुझे अतिरिक्त जिम्मेदारी मिली है। तय नहीं हूं कि इसका मुझ पर नकारात्मक असर पड़ेगा या सकारात्मक।’’

इंग्लैंड टीम का कोच पद छोड़ने के बाद ऑस्ट्रेलिया से जुड़ने में दिलचस्प हैं ट्रेवर बेलिस

आईपीएल में नियमित तौर पर खेलने वाले डी कॉक भारत की परिस्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ हैं। डी कॉक ने पिछले साल मुंबई इंडियन्स के साथ मिलकर आईपीएल खिताब जीता था।

यो पूछने पर कि क्या डु प्लेसिस और एबी डिविलियर्स की तरह वो टीम के साथ मेंटर की भूमिका निभाने को तैयार है, डी कॉक ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि उन्होंने (डुप्लेसिस और डिविलियर्स) मुझे उस तरह खेलने की काफी आजादी दी जैसे मैं खेलना चाहता हूं। मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि उनकी गैरमौजूदगी में इसमें कुछ बदलाव होगा।’’

‘जोफ्रा आर्चर ऑस्ट्रेलिया में एशेज सीरीज जिताने में मदद कर सकता है’

उन्होंने कहा, ‘‘यहां तक कि उन्हें भी अपने करियर के दौरान वे चीजें करनी पड़ी जो हम कर रहे हैं। टीम के नेतृत्व समूह में हमने इस बारे (युवाओं को निखारने पर) में बात की। अब तक ये नियंत्रण में है लेकिन युवा नेतृत्वकर्ता समूह के रूप में हम अब भी चीजों को सीख रहे हैं।’’

डी कॉक ने कहा कि कुछ युवाओं को इस दौरान अधिक मौके मिल सकते हैं जबकि कुछ को नहीं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं कोई संख्या नहीं बता सकता। किसी के लिए ये एक हो सकता है और किसी के लिए 10, इसलिए मैं कुछ कह नहीं सकता।’’

डेविड वार्नर ने स्टुअर्ट ब्रॉड को अपने दिमाग पर हावी होने दिया: जस्टिन लैंगर

धर्मशाला में पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ने के बाद ये सीरीज अब प्रभावी रूप से दो मैचों की रह गई है। डी कॉक ने कहा, ‘‘ये थोड़ा नकारात्मक है। भारत के खिलाफ हम तीन मैच खेलना चाहते थे। विश्व कप की तैयारी करते हुए अलग हालात में मैच गंवा देना आदर्श स्थिति नहीं लेकिन जो है आपके सामने है।’’

विराट कोहली बनाम कगिसो रबाडा के मुकाबले के बारे में पूछे जाने पर डी कॉक ने कहा, ‘‘वे दोनों अपने अपने तरीके से अच्छे खिलाड़ी हैं। ये काफी अच्छा मुकाबला होगा। वो अपने खेल के तरीके में सकारात्मक रहना चाहते हैं।’’