© Getty Images
© Getty Images

टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने धर्मशाला में खेले गए पहले वनडे मैच में एक अनचाहा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। पांचवें ओवर में टीम इंडिया के 4 रनों पर 2 विकेट गिरने के बाद बल्लेबाजी करने आए दिनेश कार्तिक शुरू से ही दबाव में नजर आए और उन्होंने करीब तीन ओवर तक एक भी रन नहीं बनाया। आखिरकार वह 18 गेंदें खेलने के बाद पर 0 पर एल्बीडब्ल्यू आउट हो गए।

इस तरह से वह सबसे ज्यादा गेंदें खेलने के बाद जीरो पर आउट होने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। उनके पहले यह रिकॉर्ड एकनाथ सोलकर के नाम था। वह साल 1974 में ओवल में खेले गए मैच में इंग्लैंड के खिलाफ 17 गेंदों में बिना कोई रन बनाए 0 पर आउट हो गए थे।

इसके अलावा सौरव गांगुली साल 2001 में कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ 16 गेंदों में बिना कोई रन बनाए आउट हो गए थे। धर्मशाला वनडे में श्रीलंकाई गेंदबाजों का कहर टीम इंडिया पर खूब टूटा और टीम इंडिया पहले 10 ओवरों में सिर्फ 11 रन ही बना पाई। ये साल 2000 के बाद पहले 10 ओवरों में टीम इंडिया के द्वारा बनाए गए सबसे कम रन हैं। इस दौरान टीम इंडिया का पहला विकेट शिखर धवन के रूप में दूसरे ओवर में गिरा।

धवन ने 6 गेंदों में कोई रन नहीं बनाया। इसके बाद रोहित शर्मा 13 गेंदों में 2 रन बनाकर आउट हुए। तीसरे विकेट के रूप में दिनेश कार्तिक 18 गेंदों में 0 रन बनाकर आउट हुए। वहीं मनीष पांडे 15 गेंदों में 2 रन बनाकर आउट हुए। इससे पहले कि टीम इंडिया संभलती श्रेयस अय्यर पांचवें विकेट के लिए रूप में 9 रन बनाकर आउट हो गए। खबर लिखे जाने तक टीम इंडिया ने 16 रनों पर अपने शुरुआती 5 विकेट गंवा दिए। यह शुरुआती पांच विकेट गिरने के बाद टीम इंडिया का वनडे में सबसे कम स्कोर है। इसके पहले टीम इंडिया ने साल 1983 में 17 रनों पर अपने शुरुआती 5 विकेट गंवाए थे। क्रीज पर एमएस धोनी 0 रन बनाकर खेल रहे हैं।