जसप्रीत बुमराह © AFP
जसप्रीत बुमराह © AFP

श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे मैच में टीम इंडिया के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने पारी के छठे ओवर की पांचवीं गेंद पर उपुल थरंगा को आउट कर दिया था। लेकिन वो गेंद अंपायर ने नो करार दे दी और इसके साथ ही बुमराह के नाम एक अनचाहा रिकॉर्ड दर्ज हो गया। दरअसल, बुमराह ने जब से वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया है उसके बाद से क्रिकेट के इस फॉर्मेट में वो सबसे ज्यादा नो बॉल फेंकने वाले गेंदबाज हैं। इस दौरान बुमराह से ज्यादा नो बॉल किसी भी गेंदबाज ने नहीं फेंकी हैं।

अब तक फेंक चुके हैं 16 नो बॉल: बुमराह ने अपने वनडे करियर का आगाज 23 जनवरी, 2016 को किया था। इसके बाद से लेकर अब तक वो कुल 16 नो बॉल फेंक चुके हैं, जो कि उनके डेब्यू से लेकर अब तक दुनिया के किसी भी गेंदबाज से ज्यादा हैं। बुमराह के बाद दूसरे नंबर पर आयरलैंड टीम के गेंदबाज पीटर चेज हैं। पीटर ने अब तक 12 नो बॉल फेंकी हैं।

पारी के छठे ओवर में फेंकी नो बॉल: बुमराह पारी का छठा ओवर फेंक रहे थे। आखिरी गेंद ऑफ स्टंप के बाहर थी और उस गेंद को थरंगा खेलना चाहते थे। गेंद ने बल्ले का बाहरी किनारा लिया और कार्तिक ने कैच कर लिया। भारतीय टीम विकेट का जश्न मना ही रही थी कि थर्ड अंपायर ने गेंद को नो बॉल करार दे दी। थरंगा को जब जीवनदान मिला तो उस समय वो सिर्फ 11 रन बनाकर खेल रहे थे। खबर लिखे जाने तक थरंगा ने (31) रन बना लिए थे और धीरे-धीरे अपनी टीम को जीत की तरफ ले जा रहे थे।

भारत के 24वें वनडे कप्तान बने रोहित शर्मा
भारत के 24वें वनडे कप्तान बने रोहित शर्मा

आपको बता दें कि पहले वनडे मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका के सामने जीत के लिए 113 रनों का लक्ष्य रखा है। सितारों से सजी टीम इंडिया पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल सकी और सिर्फ 38.1 ओवरों में 112 रनों पर ऑलआउट हो गई। भारत की तरफ से सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी ही पिच पर रुककर खेल सके और अर्धशतक लगाने में कामयाब रहे। धोनी ने सबसे ज्यादा (65) रनों की पारी खेली। भारतीय टीम की खराब बल्लेबाजी का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि टीम के 5 खिलाड़ी अपना खाता भी नहीं खोल सके। श्रीलंका की तरफ से लकमल ने (4), प्रदीप (2), मैथ्यूज, धनंजया, पतिराना, परेरा ने 1-1 खिलाड़ी को आउट किया।