© Getty Images
© Getty Images

टीम इंडिया के युवा लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कटक टी20 में अपनी फिरकी का जादू दिखाया। युजवेंद्र ने पहले टी20 में सिर्फ 23 रन देकर 4 विकेट झटके। श्रीलंकाई टीम युजवेंद्र चहल के सामने टिक ही नहीं सकी। चहल ने एंजेलो मैथ्यूज, गुणारत्ने, उपुल थरंगा और तिसारा परेरा के विकेट लेकर श्रीलंकाई टीम को धराशायी कर दिया। युजवेंद्र चहल की इस फिरकी के दम पर ही टीम इंडिया ने टी20 में रनों के लिहाज से अपनी सबसे बड़ी जीत हासिल की। टीम इंडिया ने श्रीलंका को 93 रनों के बड़े अंतर से मात दी।

युजवेंद्र चहल बने 2017 के सबसे सफल गेंदबाज

कटक टी20 में 4 विकेट लेने वाले चहल ना सिर्फ मैन ऑफ द मैच बने, बल्कि वो साल 2017 में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बन गए। चहल के साल 2017 में 19 टी20 विकेट हो गए। उन्होंने अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान को पछाड़ा, जिनके नाम 17 विकेट थे। वेस्टइंडीज के केसरिक विलियम्स के नाम 17 विकेट हैं।

 

कटक टी20 में टीम इंडिया ने हासिल की सबसे बड़ी जीत, श्रीलंका को 93 रनों से हराया
कटक टी20 में टीम इंडिया ने हासिल की सबसे बड़ी जीत, श्रीलंका को 93 रनों से हराया

मैच के बाद युजवेंद्र चहल ने कहा, ‘जब मैंने गेंदबाजी शुरू की तो मैं थोड़ा भ्रम में था लेकिन कुछ गेंदें डालने के बाद मैंने फील्डिंग सेट की और थरंगा का विकेट लेने के बाद मैं अपनी लय में आ गया। मैं गुगली और लेग स्पिन का सही मिश्रण कर रहा था। पिच थोड़ी धीमी थी लेकिन उसमें बाउंस था। जब पिच पर गेंद घूम रही होती है तो मैं अपनी लाइन बदलता हूं। मैं और कुलदीप साथ में अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं और हमें गीली गेंद से गेंदबाजी करने की आदत है। हमने स्कोर बोर्ड पर अच्छा स्कोर लगाया था। माही भाई और मनीष पांडे ने बल्ले से जबर्दस्त प्रदर्शन किया।’