श्रीलंकाई टीम © AFP
श्रीलंकाई टीम © AFP

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज 16 नवंबर से होना है। इस सीरीज में जीत हासिल करना श्रीलंकाई टीम के लिए बेहद ही मुश्किल है। वो इसलिए क्योंकि मौजूदा दौर में टीम इंडिया दुनिया की नंबर 1 टेस्ट टीम है और उसकी फॉर्म लाजवाब है। वहीं दूसरी ओर श्रीलंकाई टीम इन दिनों बहुत ही बुरे दौर से गुजर रही है। उसे टीम इंडिया के खिलाफ अपनी ही धरती पर टेस्ट और वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप झेलना पड़ा। टी20 सीरीज में भी हालात नहीं बदले। वैसे श्रीलंका ने पाकिस्तान को 2-0 से टेस्ट सीरीज में मात दी लेकिन टीम इंडिया के खिलाफ जीत हासिल करना उसके लिए लगभग नामुमकिन है।

वैसे आपको बता दें भारतीय सरजमीं पर श्रीलंका का रिकॉर्ड बहुत ही खराब है। श्रीलंकाई टीम भारत को उसकी धरती पर एक भी टेस्ट मैच नहीं हरा सकी है। इन दोनों टीमों के बीच भारत में कुल 17 टेस्ट हुए हैं, जिसमें से भारत ने 10 टेस्ट जीते और 7 टेस्ट ड्रॉ रहे। जबकि श्रीलंका को एक अदद जीत नसीब नहीं हुई। श्रीलंकाई टीम भारत में संगाकारा, जयवर्धने, तिलन समरावीरा जैसे बल्लेबाज लेकर भी आई लेकिन फिर भी टीम इंडिया को हरा नहीं सकी, और अब तो श्रीलंका की टीम इतनी कमजोर है कि लोग पहले से ही उसके टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप होने का दावा कर रहे हैं।

किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी के लिए तैयार हूं: केदार जाधव
किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी के लिए तैयार हूं: केदार जाधव

भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैचों की शुरुआत 16 नवंबर से होगी। पहला टेस्ट मैच कोलकाता में खेला जाएगा। इसके बाद दूसरा टेस्ट नागपुर में 24 नवंबर से और सीरीज का तीसरा और आखिरी टेस्ट दिल्ली में 2 दिसंबर से खेला जाएगा।