महेला जयवर्धने © Getty Images
महेला जयवर्धने © Getty Images

श्रीलंका के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज महेला जयवर्धने का मानना है कि श्रीलंकाई टीम की असफलता का सबसे बड़ा कारण उनका खौफ है। जयवर्धने ने कहा कि श्रीलंकाई टीम को नाकामी का डर लगातार सता रहा है जिसका असर टीम के प्रदर्शन पर भी पढ़ रहा है। जयवर्धने ने ये भी कहा कि जिम्बाब्वे से वनडे सीरीज, टीम इंडिया से 3-0 से टेस्ट सीरीज हारने के बाद अब श्रीलंकाई टीम वनडे सीरीज में भी 0-1 से पीछे है जिसके बाद उसका मनोबल काफी नीचे गिरा हुआ दिख रहा है, टीम जीत की भूखी नहीं दिख रही है जिसका जल्द से जल्द हल निकालना जरूरी है।

क्रिक इंफो से बातचीत करते हुए महेला जयवर्धने ने कहा, ‘मुझे लगता है श्रीलंकाई टीम का मनोबल नीचे गिरा हुआ है। हार का डर साफ दिखाई दे रहा है।’ टीम इंडिया से टेस्ट सीरीज में सभी 3 टेस्ट हारने पर जयवर्धने ने कहा कि श्रीलंकाई टीम ने खेल के हर पहलू में मात खाई जो काफी दुखदाई है। जयवर्धने ने बयान दिया कि टीम श्रीलंका कई मौकों को अच्छी तरह भुना नहीं पाई और उसके गेंदबाजों को देखकर कभी ऐसा नहीं लगा कि वो 20 विकेट ले सकते हैं।

महेला जयवर्धने ने एक ओर जहां अपनी टीम की आलोचना की वहीं उन्होंने टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या को सराहा। विराट कोहली पर जयवर्धने ने कहा, ‘विराट कोहली बहुत आक्रामक कप्तान हैं वो हालात को पहले ही भांप लेते हैं। विराट कोहली आगे से टीम इंडिया को लीड करते हैं। टीम इंडिया के पास अच्छे गेंदबाज और बल्लेबाज हैं जिनके बीच प्लेइंग इलेवन में जगह पाने के लिए सकारात्मक मुकाबला चलता है।’  एम एस धोनी ने खेला ऐसा शॉट, वीडियो कैमरा करना पड़ा पैक!

हार्दिक पांड्या पर महेला जयवर्धने ने कहा, ‘हार्दिक पांड्या बेहद ही अच्छे टैलेंट हैं, खासकर छोटे फॉर्मेट में। कोई खिलाड़ी अगर 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंक सकता है और अच्छी बल्लेबाजी भी कर सकता है तो वो टीम के लिए बहुत अच्छी बात है। पांड्या कहीं भी किसी भी मौके पर बल्लेबाजी कर सकते हैं। टीम इंडिया को हार्दिक पांड्या जैसे ऑलराउंडर की ही तलाश थी जो कि उन्हें मिल गया है।’