एमएस धोनी © Getty Images
एमएस धोनी © Getty Images

एमएस धोनी ने पल्लेकेले में खेले गए दूसरे वनडे में शानदार बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया था और कठिन परिस्थितियों में आठवें विकेट के लिए भुवनेश्वर कुमार के साथ शतकीय साझेदारी निभाई और एक हारे हुए मैच में टीम इंडिया को 3 विकेट से जीत दिलवाई। इस तरह से धोनी एक बार फिर से हीरो बन गए। धोनी ने इस मैच में नाबाद 45 रन बनाए थे। वहीं भुवनेश्वर कुमार ने नाबाद 53 रनों की पारी खेली थी। अब एमएस धोनी तीसरे वनडे में कमाल दिखाने को तैयार हैं। एमएस धोनी जब तीसरे वनडे में उतरेंगे तो उनके निशाने पर दो-दो शतक होंगे। आप सोच रहे होंगे कि एक खिलाड़ी मैच में ‘दो शतक’ कैसे लगा सकता है तो आइए नजर डालते हैं।

1. स्टंपिंग्स का शतक पूरा कर सकते हैं एमएस धोनी: एमएस धोनी के नाम वनडे क्रिकेट में 298 मैचों में 99 स्टंपिग्स लेने का रिकॉर्ड है। वह इस समय श्रीलंका के कुमार संगकारा (99 स्टंपिंग्स) के साथ संयुक्त रूप से पहले नंबर पर हैं। इस तरह से वह अगर इस मैच में एक और स्टंपिंग अपने नाम कर लेते हैं तो कुमार संगकारा को पीछे छोड़ते हुए अकेले टॉप पर तो पहुंच ही जाएंगे साथ ही अपनी 100 स्टंपिंग्स भी पूरी कर लेंगे। यह कारनामा करने वाले धोनी दुनिया के पहले विकेटकीपर होंगे।

2. खिलाड़ी के तौर पर अपना 100वां मैच खेलेंगे एमएस धोनी: एमएस धोनी कई सालों तक टीम इंडिया के लिए कप्तान के तौर पर खेले। चूंकि, अब टीम इंडिया में वह एक खिलाड़ी के रूप में खेलते हैं। इसलिए जब वह तीसरे वनडे में श्रीलंका के खिलाफ उतरेंगे तो एक खिलाड़ी के तौर पर उनका यह 100वां मैच होगा। अब तक एमएस धोनी ने बगैर कप्तान रहे 99 मैचों की 85 पारियों में 46.90 की औसत से 2,908 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 17 अर्धशतक लगाए हैं। जब एमएस धोनी अपने 100वें मैच में बतौर खिलाड़ी उतरेंगे तो उनका मकसद अपने 3,000 रन पूरे करने पर भी होगा। धोनी ने कप्तान के तौर पर 199 मैचों की 171 पारियों में 53.92 की औसत से 6,633 रन बनाए हैं जिसमें 6 शतक और 47 अर्धशतक शामिल हैं।  जब विराट कोहली, आशीष नेहरा बाबा गुरमीत राम रहीम से आशीर्वाद लेने गए, देखें वीडियो

धोनी अपने वनडे क्रिकेट करियर में 298 मैचों की 256 पारियों में 9,541 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 10 शतक और 64 अर्धशतक बनाए हैं।