भुवनेश्वर कुमार © Getty Images
भुवनेश्वर कुमार © Getty Images

पल्लेकेले वनडे में टीम इंडिया की जीत में सबसे अहम भूमिका निभाने वाले खिलाड़ी भुवनेश्वर कुमार ने ओपनर रोहित शर्मा को इंटरव्यू दिया। रोहित शर्मा ने भुवी से उनकी मैच जिताऊ पारी पर कई सवाल पूछे। भुवनेश्वर से मुश्किल हालात में उनकी सोच और एम एस धोनी के साथ की गई साझेदारी पर रोहित ने कई सवाल दागे, जिसका उन्होंने बखूबी जवाब दिया। भुवनेश्वर ने कहा, ‘जब मैं क्रीज पर गया तो हालात खराब थे, एम एस धोनी ने मुझे आराम से खेलने की सलाह दी। मैं उस तरह का बल्लेबाज नहीं हूं जो छक्के लगा सकता है। मैं ये जानता था कि अगर 15-20 ओवर खेलूंगा तो हम जीत सकते हैं।’

भुवनेश्वर कुमार ने पल्लेकेले की पिच पर भी बयान दिया, उन्होंने कहा, ‘मैं जब बल्लेबाजी के लिए गया तो गेंद टर्न हो रही थी। मुझे इस पिच पर गेंदबाजी से ज्यादा बल्लेबाजी आसान लगी। हमारी गेंदबाजी के दौरान गेंद बल्ले पर अच्छे से आ रही थी।’ रोहित शर्मा ने भी कहा कि इस मैच से टीम की ताकत का पता चलता है। हमारी टीम की बल्लेबाजी में गहराई है और हमें विश्वास था कि हम ये मैच जीत सकते हैं।

भुवनेश्वर कुमार ने श्रीलंका के गेंदबाज अकिला दनंजया के खिलाफ भी रणनीति बनाई थी। भुवी ने कहा, ‘मैं जब क्रीज पर गया तो मैंने उन्हें गुगली गेंदबाज के तौर पर खेलने का प्लान बनाया हुआ था। इस प्लान ने मेरे लिए काम भी किया। एम एस धोनी ने भी उन्हें गुगली गेंदबाज के तौर पर खेला। मैंने मलिंगा के लिए बहुत मेहनत की थी खासकर उनकी स्लोअर गेंदों के लिए।’ एम एस धोनी हैं दुनिया के सबसे बड़े ‘फिनिशर’, विराट कोहली को छोड़ा पीछे

पल्लेकले में खेले गए दूसरे वनडे में टीम इंडिया ने रोमांचक मुकाबले में श्रीलंका को 3 विकेट से हरा दिया। भारतीय टीम को डकवर्थ-लुइस नियम के मुताबिक 231 रनों का लक्ष्य मिला था। लक्ष्य का पीछा करते हुए एक वक्त पर टीम इंडिया के बिना विकेट खोए 109 रन हो चुके थे, लेकिन इसके बाद श्रीलंका के स्पिनर अकिला दनंजया ने जबर्दस्त गेंदबाजी करते हुए टीम इंडिया को 6 झटके दे दिए और उसने महज 131 रनों पर 7 विकेट गंवा दिए। टीम इंडिया मुश्किल में फंस गई थी और ऐसे समय में एम एस धोनी और भुवनेश्वर कुमार ने गजब का संयम दिखाते हुए 8वें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी कर भारत को 3 विकेट से जीत दिला दी।