रोहित शर्मा और एम एस धोनी © AFP
रोहित शर्मा और एम एस धोनी © AFP

भारत और श्रीलंका के बीच आज दूसरा वनडे मैच खेला जाना है। दोनों देशों के लिए ये मुकाबला बेहद अहम रहने वाला है। ऐसे में दोनों टीमें इस मैच को जीतने के लिए जी-जान लगा देंगी। भारतीय टीम के पास सीरीज बचाने का ये आखिरी मौका होगा तो वहीं श्रीलंका को इतिहास रचने का इससे शानदार मौका नहीं मिल सकता। अगर श्रीलंकाई टीम इस मैच को जीतकर सीरीज अपने नाम कर लेती है तो वो कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लेगी। आइए आपको बताते हैं कि मैच में क्या रिकॉर्ड बन सकते हैं।

पहली बार भारत में जीतेगा कोई भी सीरीज: श्रीलंका की टीम ने अब तक भारत में क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट की कोई सीरीज नहीं जीती है। श्रीलंका को आज तक भारत में कोई सीरीज जीत नसीब नहीं हुई है और ऐसे में उनके पास इतिहास रचने का सुनहरा मौका होगा। इसके अलावा श्रीलंका की टीम 20 साल से भारत के खिलाफ कोई भी सीरीज नहीं जीती है। आखिरी बार श्रीलंका ने भारत से कोई भी सीरीज 1997 में जीती थी।

लगातार 7 सीरीज के बाद मिलेगी हार: अगर भारत दूसरा वनडे मैच हारकर सीरीज हार जाता है तो टीम इंडिया लगातार 7 सीरीज के बाद कोई सीरीज हारेगी। भारतीय टीम ने जनवरी, 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी सीरीज हारी थी और इसके बाद से टीम ने कोई भी सीरीज नहीं हारी है। ऐसे में टीम इंडिया ये बिलकुल भी नहीं चाहेगी कि उनके सीरीज जीत के अभियान को झटका लगे।

एंजेलो मैथ्यूज रचेंगे इतिहास: श्रीलंका के सबसे प्रतिभाशाली बल्लेबाज एंजेलो मैथ्यूज के पास इतिहास रचने का मौका होगा। अगर मैथ्यूज दूसरे वनडे में 63 रनों की पारी खेल जाते हैं तो वो अपने वनडे करियर के 5,000 रन पूरे कर लेंगे। मैथ्यूज अगर ऐसा कर पाते हैं तो इस उपलब्धि को हासिल करने वाले श्रीलंका के वो कुल 10वें खिलाड़ी होंगे।