इंदौर का होल्कर स्टेडियम
इंदौर का होल्कर स्टेडियम

मध्यप्रदेश क्रिकेट संघ के क्यूरेटर समंदर सिंह चौहान का मानना है कि भारत और श्रीलंका के बीच होल्कर स्टेडियम में होने वाले दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में पिच बल्लेबाजी के मुफीद होगी लेकिन जो टीम टॉस जीतती है, उसके लिये पहले गेंदबाजी करना भी बुरा विकल्प नहीं होगा। कटक में पहले टी20 के दौरान पहली गेंद से ही ओस का असर दिखने लगा लेकिन इंदौर में ओस इतनी जल्दी असर नहीं डालेगी। आपको बता दें इंदौर की बाउंड्री की दूरी को एक गज घटा दिया गया है और अब ये 69 गज होगी।

चौहान ने पीटीआई से कहा, ‘‘यहां पर बुधवार को बादल छाये हुए थे और शुक्रवार के लिये भी मौसम की भविष्यवाणी ऐसी ही है। इस हालत में ओस साढ़े सात या सात बजकर 45 मिनट से पहले नहीं गिरेगी, इसका मतलब है कि पहले 10 ओवर पर ओस का प्रभाव नहीं पड़ेगा। फिर भी पहले गेंदबाजी करना टॉस जीतने वाले कप्तान के लिये अच्छा विकल्प होगा। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम एक ऐसे रसायन का इस्तेमाल कर रहे हैं जो घास को गीला होने से रोकता है। इससे ओस की बूंदें फिसलकर गिर जाती हैं। हम ओस से निपटने के लिये इस पदार्थ का इस्तेमाल कल भी करेंगे। ’’ कटक में भारतीय और श्रीलंकाई टीम दोनों के स्पिनरों को ठीक तरह से गेंद पकड़ने में दिक्कत हो रही थी। हालांकि फिर भी भारतीय स्पिनर्स का प्रदर्शन जबर्दस्त रहा था। युजवेंद्र चहल ने 4 और कुलदीप यादव ने 2 विकेट लिए थे।

भारत को दबाव में डालेंगे दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज!
भारत को दबाव में डालेंगे दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज!

भारतीय टीम तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे चल रही है, टीम ने कटक में हुए शुरुआती मैच में 93 रन से जीत दर्ज की थी। टीम इंडिया की ये टी20 में सबसे बड़ी जीत थी।