India vs Sri Lanka, 2nd T20I: श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टी20 मुकाबले में भारत को चार विकेट से हार झेलनी पड़ी. भले ही टीम में फैले कोरोना वायरस (Covid-19) के बाद भारत को बल्‍लेबाजी के लिए ज्‍यादा खिलाड़ी नहीं मिल पाए हों लेकिन इसके बावजूद बड़े नाम भी अपना असर छोड़ पाने में सिफल रहे. आइये हम आपको इस मैच में भारत की हार के कारणों के बारे में बताते हैं.

भारत की धीमी बल्‍लेबाजी: भारतीय टीम ने आज मैच में बेहद धीमी बल्‍लेबाजी की. शिखर धवन ने 40 रन जरूर बनाए लेकिन इसके लिए उन्‍होंने 42 गेंदें खर्च कर दी.

संजू सैमसन ने किया निराश: संजू सैमसन के पास आज रन बनाकर टीम में अपनी जगह पक्‍की करने का अच्‍छा मौका था लेकिन वो एक बार फिर विफल रहे. उन्‍होंने 13 गेंदों का सामना कर महज सात रन बनाए.

नितीश राण हुए फेल: आईपीएल और भारत के घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के दम पर टीम इंडिया में मौका पाने वाले नितीश राणा अपने डेब्‍यू मैच में रन बनाने में विफल साबित हुए. उन्‍होंने 12 गेंदों का सामना कर महज नौ रन बनाए.

भुवनेश्‍वर कुमार का 19वां ओवर: भले ही भारत ने श्रीलंका के सामने 133 रनों का छोटा लक्ष्‍य रखा हो लेकिन इसके बावजूद गेंदबाजों ने इसका बचाव करने का पूरा प्रयास किया. आखिरी दो ओवरों में श्रीलंका को जीत के लिए 20 रनों की दरकार थी. भुवी ने इस ओवर में 12 रन लुटा दिए. चमिका करुणारत्‍ने ने भुवी की गेंद पर छक्‍का जड़ मैच का रुख मोड़ दिया.

चेतन सकारिया ने लुटाए रन: डेब्‍यूटेंट चेतन सकारिया ने नौ से अधिक की इकनॉमी से 3.4 ओवरों में 34 रन लुटा दिए. वो केवल एक विकेट निकाल पाए. इस लो स्‍कोरिंग मैच में सकारिया की गेंदों पर विरोधी टीम ने खूब रन बटोरे, जिससे उनपर से दबाव कम हो गया.