India vs Sri Lanka, 3nd T20I: Dhananjaya de Silva says he decided to play till the end and win match for team
Sanju Samson with Dhananjaya de Silva @ Twitter/ ICC

India vs Sri Lanka, 3nd T20I: भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए दूसरे टी20 मैच के बाद, श्रीलंका के ऑलराउंडर खिलाड़ी धनंजय डी सिल्वा (Dhananjaya de Silva) ने कहा कि टीम में उनकी भूमिका अंत तक क्रीज पर टिके रहकर टीम को मैच में जीत दिलाना है।

डी सिल्वा ने बुधवार को भारत के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 34 गेंदो पर नाबाद 40 रन की पारी खेल कर श्रीलंका को चार विकेट से मैच जीताने में अहम भूमिका निभाई। इस जीत के साथ मेजबान टीम तीन मैचों की यह सीरीज को 1-1 से बराबरी करने में कामयाब रही।

मैच के बाद डी सिल्वा (Dhananjaya de Silva) ने कहा, टीम में मेरा काम है खेल के अंत तक टिके रहना और टीम के लिए मैच जीतना। मुझे पहले मैच में भी कहा गया था पर मैं ये करने में असफल रहा था। यह दिन मेरा था और मैने अपना काम किया। मुझे कोच, कप्तान और चयनकर्ता द्वारा यही कहा गया है कि मुझे खेल के अंत तक खेलना है ताकि बाकी के बल्लेबाज अपना गेम खेल सके और विरोधी टीम पर अटैक कर सके और फिर बाद में मैं अपना स्ट्राइक रेट बढ़ा कर टीम को जीत दिलाने में मदद कर सकूं।

29 वर्षीय खिलाड़ी ने कहा कि वह जानते थे कि पिच धीमी होगी जिससे विरोधी टीम को कम रनों में समेटा जा सकेगा। डी सिलवा (Dhananjaya de Silva) ने आगे बात करते हुए कहा, हमें पता था कि पिच धीमी रहने वाली है और हमारी रणनिती थी कि हम उन्हें 125-130 के बीच में रोके। हमारे गेदबाजों ने अच्छा काम किया और भारतीय टीम के बल्लेबाजों को रन बनाने का मौका नहीं दिया। हमें पता था कि बल्लेबाजी करना हमारे लिए भी आसान नहीं होगा पर हम ये भी जानते थे कि अगर हमने 20 ओवर तक बल्लेबाजी की तो हम मैच जीत सकते हैं।

अब दोनो टीमो के बीच टी20 सीरीज का अंतिम मुकाबला गुरुवार को खेला जाएगा और दोनो टीमों में से जो भी टीम इस मैच को जीतने में कामयाब रहेगी वो सीरीज पर भी कब्जा जमाने में कामयाब हो जाएगी।