India vs Sri Lanka, 3rd Test: Virat Kohli, Murali Vijay’s heroic innings puts hosts in strong position on Day 1
विराट कोहली, मुरली विजय ने 283 रनों की साझेदारी बनाई ©IANS

भारत बनाम श्रीलंका तीसरे और आखिरी टेस्ट के पहले दिन का खेल पूरी तरह मेजबानों के पक्ष में गया। दिन का खेल खत्म होने तक भारतीय टीम ने 4 विकेट खोकर 371 रन बनाए। हालांकि श्रीलंकाई गेंदबाजों ने स्टंप से पहले अजिंक्य रहाणे और मुरली विजय का अहम विकेट निकाला। 155 रनों की धमाकेदारी पारी खेल चुके विजय एक बार फिर दोहरे शतक से चूक गए। दिन के आखिरी ओवर तक कप्तान विराट कोहली 156 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए थे, वहीं दूसरे छोर पर रोहित शर्मा 6 रन बनाकर उनका साथ दे रहे थे। श्रीलंका की ओर से सबसे ज्यादा 2 विकेट लक्षण संदकन ने लिए।

विराट कोहली ने जमा दिया लगातार तीसरे मैच में शतक, बना डाले 4 बड़े रिकॉर्ड्स
विराट कोहली ने जमा दिया लगातार तीसरे मैच में शतक, बना डाले 4 बड़े रिकॉर्ड्स

दिन के खेल की शुरुआत टॉस से हुई, कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। केएल राहुल के टीम से बाहर होने के बाद मुरली विजय और शिखर धवन ने पारी की शुरुआत की। हालांकि धवन ज्यादा देर कर क्रीज पर नहीं टिक पाए और 23 रन बनाकर दिलरुवान परेरा के ओवर में कैच आउट हो गए। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए चेतेश्वर पुजारा भी आज सस्ते में पवेलियन लौट गए। लाहिरू गमजे ने उन्हें 23 के स्कोर पर कैच आउट करवाया। इसके बाद विराट कोहली ने विजय के साथ भारतीय पारी को संभाला। दोनों ने मिलकर 283 रनों की धमाकेदार साझेदारी बनाई और टीम इंडिया को मैच में मजबूत स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया।

दोनों बल्लेबाजों ने अपने अपने शतक पूरे किए। 150 का आंकड़ा पार करने के बाद लग रहा था कि मुरली विजय आज एक दोहरा शतक लगाएंगे लेकिन वह 155 रन बनाकर लक्षण संदकन का शिकार बने। विजय के पवेलियन लौटने के बाद उप कप्तान अजिंक्य रहाणे मैदान पर आए। पिछले काफी समय से उनके बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे और आज भी वह फैंस की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे। रहाणे केवल 1 रन बनाकर संदकन की गेंद पर स्टंप आउट हो गए। पूरे दिन का खेल भारत के पक्ष में रहने के बाद आखिरी सेशन में श्रीलंकाई गेंदबाजों ने फेरबदल की भरपूर कोशिश की। दिन का खेल खत्म होने तक विराट कोहली और रोहित शर्मा ने कोई भी विकेट नहीं गिरने दिया। 371 के स्कोर तक पहुंची टीम इंडिया कल ज्यादा से ज्यादा बल्लेबाजी कर 400-500 के आंकड़े तक पहुंचना चाहेगी।