India vs Sri Lanka: Delhi test under threat due to smog
दिल्ली टेस्ट के दौरान लाहिरू गमागे की तबियत सबसे ज्यादा खराब हुई है © Getty Images

दूसरे दिन हुए स्मॉग विवाद के बाद भारत बनाम श्रीलंका दिल्ली टेस्ट पर रद्द होने का खतरा मंडराने लगा है। फिरोज शाह कोटला के मैदान पर खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन श्रीलंकाई खिलाड़ियों को स्मॉग की वजह से काफी परेशानी हुई। कई खिलाड़ी मैदान पर मास्क लगाकर उतरे, तो कुछ खिलाड़ियों को ज्यादा तबियत खराब होने की वजह से उन्हें मैदान से बाहर ले जाना पड़ा। इस वजह से मैच को दो बार रोकना भी पड़ा, जिसके बाद विराट कोहली ने पारी घोषित करने का फैसला किया। स्टंप के बाद मैच रेफरी डेविड बून ने श्रीलंकाई कोच निक पोथास से बात की। पोथास ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि बून ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को भरोसा दिलाया कि स्थिति को पूरी तरह से जांचने के बाद ही कल के दिन का खेल होगा।

दिल्ली टेस्ट में फील्डिंग के दौरान श्रीलंकाई खिलाड़ी लगातार उल्टी कर रहे थे: निक पोथास
दिल्ली टेस्ट में फील्डिंग के दौरान श्रीलंकाई खिलाड़ी लगातार उल्टी कर रहे थे: निक पोथास

दूसरे दिन के खेल के दौरान कई श्रीलंकाई क्रिकेटर मैदान से बाहर जाकर उल्टियां कर रहे थे। जिसमें से लाहिरू गमागे, सुरंगा लकमल, धनंजया डी सिल्वा और जेफ्री वांदरसे की हालत ज्यादा खराब है। इस बारे में बात करते हुए पोथास ने कहा, “सुरंगा और लाहिरू संघर्ष कर रहे थे। मैच रेफरी और डॉक्टर हमारे ड्रेसिंग रूम में आए और बेचारा सुरंगा लगातार उल्टियां कर रहा था। धनंजया डी सिल्वा भी उल्टी कर रहा था। ये काफी मुश्किल था।” पोथास ने विराट कोहली के पारी घोषित करने के बारे में कहा कि वह नहीं चाहते थे कि खेल रुके, वह तो केवल खिलाड़ियों की सुरक्षा चाहते थे।

श्रीलंकाई कोच के बयान के मुताबिक आज रात आईससी और मैच अधिकारियों के बीच एक बैठक होगी, जहां मैच को लेकर आखिरी फैसला लिया जाएगा। सोशल मीडिया पर गुस्साए फैंस भले ही श्रीलंकाई क्रिकेटरों का मजाक उड़ा रहे हों लेकिन वह अकेले नहीं जो स्मॉग से परेशान थे। मैच के दौरान भारतीय खिलाड़ी कुलदीप यादव, रोहित शर्मा और रविचंद्रन अश्विन भी मास्क लगाए दिखे थे। वैसे कोटला स्टेडियम के लिए ये स्थिति कोई नई नहीं है। पिछले साल रणजी ट्रॉफी के दौरान गुजरात बनाम बंगाल और त्रिपुरा बनाम हैदराबाद मैच भी दिल्ली में प्रदूषण के चलते रद्द कर दिए गए थे।