© Getty Images
© Getty Images

भारत बनाम श्रीलंका तीसरे वनडे के दौरान हुए हंगामे के बाद आईसीसी खिलाड़ियों की सुरक्षा को लेकर और ज्यादा सतर्क हो गई है। इसी के चलते आईसीसी मैच रैफरी एंडी पायक्रॉफ्ट ने श्रीलंकन क्रिकेट बोर्ड को आने वाले मैचों के लिए खिलाड़ियों की सुरक्षा निश्चित करने के लिए कहा है। बता दें कि पल्लेकेले में भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए तीसरे वनडे मैच के दौरान अपनी टीम के प्रदर्शन से गुस्साए श्रीलंकाई फैंस ने मैदान की तरफ बोतलें फेंकनी शुरू कर दी थी। जिसके बाद करीबन 35 मिनट तक मैच रोक दिया गया था।

मैच के बाद श्रीलंका क्रिकेट के एक अधिकारी ने क्रिकबज से बातचीत में कहा, “हमने कई बैठकों का आयोजन किया है। बोर्ड सदस्यों के साथ कई निजी बैठके हैं और उसके बाद हम सुरक्षा अधिकारियों से भी चर्चा करेंगे और देखेंगे कि और क्या किया जा सकता है। हमारे पास कई सुरक्षा योजनाएं हैं और हम इसे सुरक्षा अधिकारियों के साथ साझा करेंगे। हमने दर्शकों को समझाने के लिए भी कुछ तैयारियां की है और हमें उम्मीद है कि कोलंबो में स्थिति हमारे हाथ से नहीं निकलेगी।” तीसरे मैच में 6 विकेट से हारने के बाद श्रीलंका टीम ने 0-3 से सीरीज भी गंवा दी है। हालांकि अब भी सीरीज के दो मैच बाकी है, जिन्हें जीतना श्रीलंका के लिए बहुत जरूरी है। [ये भी पढ़ें: श्रीलंकाई प्रशंसकों के हंगामे के बाद विराट कोहली ने कहा ‘तूफान के बाद की शांति है ये’]

इन दो मैचों में जीत हासिल करके श्रीलंका टीम आगामी 2019 विश्व कप के लिए क्वालिफाई कर सकेगी। बोर्ड नहीं चाहता कि बाकी दोनों मैचों में ये घटना दोहराई जाय इसलिए सुरक्षा इंतजामों को लेकर बोर्ड पूरी तरह सतर्क है।