साभार- पीटीआई
साभार- पीटीआई

भारत और श्रीलंका की टीमें टी20 सीरीज के दूसरे मैच के लिए इंदौर पहुंच चुकी हैं। तीन मैचों की सीरीज में भारत के 1-0 से बढ़त लेने के बाद ये मुकाबला दोनों टीमों के लिये बेहद अहम हो गया है। मध्यप्रदेश क्रिकेट संघ (एमपीसीए) के एक अधिकारी ने बताया कि भारत और श्रीलंका की टीमें भुवनेश्वर से विशेष विमान के जरिये इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर हवाई अड्डे पहुंचीं। फिर इन्हें अलग-अलग बसों के जरिये शहर के विजय नगर इलाके के एक होटल ले जाया गया जहां उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया। दोनों टीमों के खिलाड़ियों की एक झलक पाने के लिये स्थानीय हवाई अड्डे और होटल परिसर के आस-पास बड़ी तादाद में क्रिकेट फैंस जमा थे। पुलिस ने वहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये थे।

होलकर स्टेडियम में अजेय रही है टीम इंडिया

आपको बता दें मध्यप्रदेश क्रिकेट संघ (एमपीसीए) का करीब 27,300 दर्शकों की क्षमता वाला होलकर स्टेडियम भारतीय टीम के लिये बेहद भाग्यशाली रहा है। मेजबान टीम ने इस मैदान पर अब तक हुए सभी पांच वनडे मैचों और एकमात्र टेस्ट मुकाबले में जीत हासिल की है। बीस बरस के लम्बे अंतराल के बाद इंदौर पहुंची श्रीलंका टीम शुक्रवार को होलकर स्टेडियम में पहली बार उतरेगी। ये टीम पिछली बार साल 1997 में भारत के खिलाफ एक दिवसीय मैच खेलने इंदौर पहुंची थी, हालांकि, तब होलकर स्टेडियम नहीं बना था और क्रिकेट के अंतरराष्ट्रीय मुकाबले नेहरू स्टेडियम में आयोजित किये जाते थे।

भारत को दबाव में डालेंगे दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज!
भारत को दबाव में डालेंगे दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज!

अर्जुन रणतुंगा की कप्तानी वाली टीम की बल्लेबाजी से 25 दिसंबर 1997 को नेहरू स्टेडियम में मैच की शुरूआत हुई थी। मेहमान टीम ने तीन ओवर के बाद ही नेहरू स्टेडियम की पिच को खराब बताते हुए इस पर खेलने से इनकार कर दिया था। इसके बाद रणतुंगा ने तत्कालीन भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर से पिच को लेकर चर्चा की थी। दोनों कप्तानों की सहमति से मैच रद्द कर दिया गया था।