एमएस धोनी © AFP
एमएस धोनी © AFP

एमएस धोनी के 78* और अजिंक्य रहाणे के 71 रनों की बदौलत टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे वनडे में पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 4 विकेट पर 251 रन बनाए हैं और वेस्टइंडीज को 252 रनों का लक्ष्य दिया है। टीम इंडिया की ओर से युवराज सिंह ने 55 गेंदों में 39 रन और केदार जाधव ने 26 गेंदों में 40* रन बनाए। वहीं इस मैच में शिखर धवन कुछ खास नहीं कर सके और 2 रन बनाकर आउट हो गए। विराट कोहली भी 11 रन बनाकर चलते बने। वेस्टइंडीज की ओर से मिगुएल कमिंस ने सर्वाधिक 2 विकेट लिए। वहीं जेसन होल्ड और देवेंद्र बिशू को 1-1 विकेट मिला।

इसके पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब रही और तीसरे ओवर में ही शिखर धवन आउट हो गए। धवन ने 6 गेंदों में 2 रन बनाए। इसके बाद अजिंक्य रहाणे और कोहली ने पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन कोहली एक बड़ा स्ट्रोक लगाने के प्रयास में काएल होप को कैच दे बैठे। इस तरह टीम इंडिया के 34 रन पर दो विकेट गिर गए थे। ऐसी विपरीत विपरीत परिस्थिति में युवराज सिंह ने रहाणे के साथ तीसरे विकेट के लिए 66 रनों की साझेदारी निभाई।

युवराज इस मैच में खासे सहज नजर आ रहे थे लेकिन इसी बीच वह देवेंद्र बिशू की गेंद पर गच्चा खा गए और एल्बीडब्ल्यू आउट हो गए। युवराज ने अपनी पारी के दौरान चार चौके लगाए। इसके बाद धोनी बल्लेबाजी करने आए। धोनी और रहाणे ने आपस में 70 रन जोड़े। इस दौरान रहाणे ने अपने वनडे करियर का 18वां अर्धशतक पूरा किया।  [भारत बनाम वेस्टइंडीज, तीसरा वनडे, लाइव स्कोरकार्ड जानने के लिए क्लिक करें]

रहाणे 112 गेंदों में 72 रन बनाकर आउट हुए। रहाणे ने अपनी पारी में 4 चौके और 1 छक्का लगाया। जब रहाणे आउट हुए तब टीम इंडिया का स्कोर 43वें ओवर में 170/4 था। ऐसे में रन रेट बढ़ाने की बेहद जरूरत थी। आखिरी ओवरों में धोनी ने केदार जाधव के साथ मिलकर जमकर हिटिंग की। इस दौरान धोनी ने जेसन होल्डर के ओवर में दो लगातार छक्के भी मारे। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए नाबाद 46 गेंदों में 81 रनों की साझेदारी निभाई और टीम इंडिया को सम्मानजनक स्कोर की ओर पहुंचाया। जाधव 26 गेंदों में 40 रन बनाकर नाबाद रहे उन्होंने 4 चौके और एक छक्का लगाया। वहीं धोनी ने 79 गेंदों में 78* रन की पारी के दौरान 4 चौके दो छक्के लगाए।