India vs West Indies: Difficult for Windies to make a comeback says Daren Ganga
Shimron Hetmyer@IANS

वेस्टइंडीज को भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मुकाबले में शर्मनाक हार मिली। टीम महज तीन दिन के भीतर ही टेस्ट हार गई। पारी और 272 रन से भारत ने मुकाबला अपने नाम किया। इस हार के बाद वेस्टइंडीज के टेस्ट स्टेटस को लेकर सवाल उठे हैं। टीम के पूर्व कप्तान डेरेन गंगा ने फैंस की नाराजगी को जायज ठहराया है।

उन्होंने कहा, ”दूसरे मैच में टीम का वापसी करना काफी मुश्किल है। पिछले पांच टेस्ट में वेस्टइंडीज की टीम ने वाकई शानदार खेल दिखाया था, खास कर इस फॉर्मेट के लिहाज से। पांच में से तीन में टीम को जीत मिली और सिर्फ श्रीलंका के खिलाफ एक मैच गंवाया था। राजकोट में हथियार डालने के बाद टीम के लिए मुश्किल है। मैंने देखा है अगर टीम की शुरुआत अच्छी नहीं होती तो उसकी वापसी मुश्किल हो जाती है।”

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए गंगा ने कहा, ”मैं लोगों की प्रतिक्रिया समझ सकता हूं। भारत ने अपने लिए एक मानक निर्धारित किया है। यह सीरीज दुनिया की नंबर एक टीम के लिए कुछ खास नहीं जोड़ने वाली। इंग्लैंड में टीम को करारी हाल मिली और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कड़ी चुनौती मिलने वाली है लेकिन घर पर सभी टीमों के खिलाफ भारतीय टीम लगातार हावी रही है।

टीम का बचाव करते हुए गंगा ने कहा, ”हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि भारत एक प्रदर्शन करने वाली टीम है जबकि वेस्टइंडीज बन रही टीम। यही दोनों टीमों के बीच के अंतर को दर्शाता है। बाहर से लोग सिर्फ 12-15 खिलाड़ियों को देखते हैं जो वेस्टइंडीज के लिए खेल रहे हैं। वो यह नहीं देखते की पीछे हमारी क्रिकेट में क्या चल रहा है और सिस्टम को लेकर कितनी परेशानी है।”

टीम के खिलाड़ियों के नेशनल टीम को छोड़ बाकी लीग में खेलने पर उन्होंने कहा, ”भारत, इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के पास वो साधन है जिसकी वजह से उनके खिलाड़ियों के बाकी जगह जाकर खेलने के बारे में नहीं सोचना पड़ा। जो बाहरी क्रिकेट में उनको मिलेगा वह देश में रहकर कमा सकते हैं और बतौर प्रोफेशनल खेल जारी रख सकते हैं। बोर्ड अपने खिलाड़ियों को संतुष्ट कर सकता है और घर पर ही उनको प्रयाप्त कमाई मुहैया करा सकता है।”