India vs West Indies Hyderabad test day one live score live update shardul thakur test debut

ऑलराउंडर रोस्टन चेज और कप्तान जेसन होल्डर ने 7वें विकेट के लिए 104 रन की साझेदारी कर वेस्टइंडीज को हैदराबाद टेस्‍ट मैच के पहले दिन शुरुआती झटकों से उबारा।

दोनों ने बल्लेबाजी के लिए अनुकूल परिस्थितियों और भारत के सीमित गेंदबाजी आक्रमण का जमकर फायदा उठाया। मेहमान टीम ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक 7 विकेट पर 295 रन बनाए।

चेज (नाबाद 98) अपने चौथे टेस्ट शतक से केवल दो रन दूर हैं। उन्होंने अब तक 174 गेंदें खेलकर 7 चौके और एक छक्का लगाया है। होल्डर दिन का खेल समाप्त होने से ठीक पहले 52 रन बनाकर पवेलियन लौटे।

उमेश यादव की गेंद को लेग साइड पर खेलने के प्रयास में होल्‍डर विकेटकीपर रिषभ पंत को कैच थमा बैठे। उनके आउट होने के बाद देवेंद्र बिशू (नाबाद दो) ने चेज के साथ मिलकर दिन के आखिरी पांच ओवरों में गेंदबाजों का डटकर सामना किया।

चेज और होल्‍डर ने विंडीज को सम्‍मानजनक स्‍कोर तक पहुंचाया

चेज और होल्डर ने वेस्टइंडीज को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। दोनों ने तब जिम्मेदारी संभाली जबकि पहला मैच पारी के अंतर से गंवाने वाली कैरेबियाई टीम ने कुलदीप यादव (74/3) और उमेश यादव (83/3) की शानदार गेंदबाजी के सामने छह विकेट 182 रन पर गंवा दिए थे। यह हालत तब थी जबकि भारत केवल चार गेंदबाजों का उपयोग करने को मजबूर था।

भारत के लिए मैच की शुरुआत अच्‍छी नहीं रही
भारत के लिए मैच की शुरुआत बहुत अच्छी नहीं रही क्योंकि अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर केवल दस गेंद करने के बाद मांसपेशियों में खिंचाव के कारण मैदान छोड़कर बाहर चले गए। उनकी अनुपस्थिति में भारतीय आक्रमण चार गेंदबाजों तक सीमित हो गया था, लेकिन तब भी वेस्टइंडीज ने चेज और होल्डर की साझेदारी से पहले नियमित अंतराल में विकेट गंवाए।

कुलदीप फिर बने परेशानी का सबब

बाएं हाथ के लेग स्पिनर कुलदीप फिर से वेस्टइंडीज के लिए परेशानी का सबब बने। बल्लेबाज अधिकतर अवसरों पर उनकी गेंदों को समझने में नाकाम रहे जबकि उमेश ने पुरानी गेंद से प्रभावशाली गेंदबाजी की।

चेज ने धैर्य से बल्‍लेबाजी करते हुए लगातार दूसरा टेस्‍ट अर्धशतक जड़ा

चेज ने धैर्य से बल्लेबाजी करते हुए लगातार दूसरा टेस्ट अर्धशतक जमाया जबकि चोटिल होने के कारण पहले मैच में नहीं खेल पाने वाले होल्डर ने वापसी पर अपने बल्लेबाजी के अपने कौशल का अच्छा नमूना पेश किया।

दोनों ने तीसरी बार 7तवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी निभाई जो कि रिकॉर्ड है। इनके अलावा अन्य बल्लेबाजों के पास बल्लेबाजी के लिए अनुकूल पिच पर खेलने के लिए भी न तो तकनीक दिखी और ना ही धैर्य।

होल्‍डर ने टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी का फैसला किया

होल्डर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया जिसके बाद रविचंद्रन अश्विन (49/1) और कुलदीप ने वेस्टइंडीज का शीर्ष क्रम झकझोरा जबकि लंच से ठीक पहले उमेश यादव ने शाई होप (36) को आउट करके पहले सत्र में भारत का पलड़ा भारी रखा।

राजकोट में पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 83 रन बनाने वाले सलामी बल्लेबाज पावेल को अश्विन की एलबीडब्‍ल्‍य की अपील पर डीआरएस के सहारे जीवनदान मिला लेकिन वह ज्यादा देर तक नहीं टिक पाए। उन्होंने इस ऑफ स्पिनर की गेंद पर लॉफ्टेड ड्राइव करने के प्रयास में कवर में रविंद्र जडेजा को कैच थमाया।

पावेल के साथी सलामी बल्लेबाज ब्रेथवेट पहले टेस्ट की तुलना में थोड़ा टिककर खेले लेकिन रन नहीं बना पाने के कारण उन पर दबाव बन गया। वह कुलदीप की अंदर आती गेंदों के सामने काफी परेशान दिख रहे थे। इसी तरह की एक गेंद को वह नहीं समझ पाये और पगबाधा आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 68 गेंदें खेली।

होप और शिमरोन हेटमेयर ने तीसरे विकेट के लिए 34 रन जोड़े। लंच से पहले आखिरी ओवर में हालांकि उमेश ने होप को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट करके वेस्टइंडीज को करारा झटका दिया।

लंच के बाद हेटमेयर (12) ने कुलदीप की गुगली को नहीं खेलना चाहा लेकिन वह विकेट के आगे उनके पैड से टकरा गई और एलबीडब्‍ल्‍यू आउट हो गए। सुनील अबंरीस (18) ने इस चाइनामैन गेंदबाज की गेंद पर ही ढीला शॉट खेलकर विकेट गंवाया।

चेज और शेन डोरिच (30) ने छठे विकेट के लिए 69 रन जोड़े। उमेश ने इसके बाद गेंद संभाली और डोरिच को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट किया। अंपायर ने पहले बल्लेबाज को आउट नहीं दिया था लेकिन कप्तान विराट कोहली का डीआरएस लेने का फैसला सही साबित हुआ।