India vs West Indies ODI: Supreme Court could decide fate of Mumbai hosting
indian team dhoni virat @Getty Images

भारत ओर वेस्टइंडीज के बीच 29 अक्टूबर को मुंबई में होने वाले वनडे मुकाबले को लेकर मुश्किल जारी है। मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के बीच हुई बैठक से कोई हल ना निकलने के बाद अब यह मामला कोर्ट में जा सकते है।

मुंबई में खेले जाने वाले वनडे सीरीज के चौथे वनडे मुकाबले के आयोजन की व्यावहार्यता का मामला उच्चतम न्यायालय में जा सकता है। मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के सचिव उन्मेष खानविलकर और एक अन्य सदस्य ने बंबई उच्च न्यायालय में जाकर वनडे के लिये तदर्थ समिति गठित करने की मांग की थी।

उच्च न्यायालय ने हालांकि उनसे उच्चतम न्यायालय के पास जाने के लिए कहा है।

एमसीए अधिकारियों ने मंगलवार को बीसीसीआई के सीनियर अधिकारियों से मुलाकात की थी और उन्हें कुछ मुश्किलों से अवगत कराया था। एमसीए का बैंक खाता संचालित नहीं करन पाना और स्टेडियम के अंदर विज्ञापनों के लिए निविदा जारी नहीं करना भी शामिल था।

एमसीए अधिकारी गुरूवार को फिर से बीसीसीआई के शीर्ष अधिकारियों से मुलाकात कर सकते हैं। इस में मैच को कराए जाने को लेकर कोई बीच का रास्ता निकाला जा सकता है।

गौरतलब है मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन चाहती है कि बीसीसीआई उनके लिए इस मैच का आयोजन करे। बीसीसीआई मैच के आयोजन का जिम्मा उठाने को तैयार नही है। इससे पहले पास को लेकर हुए विवाद के बाद 24 अक्टूबर को इंदौर में होने वाले वनडे मैच को विशाखापत्तनम शिफ्ट करना पड़ा था।