India will score well in Australia than England and South Africa, says Sanjay Manjrekar
Virat Kohli with Ajinkya Rahane (File Photo) @Getty Images

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच टेस्‍ट सीरीज शुरू होने में अब बस दो दिन का ही वक्‍त बचा है। दोनों टीमें इस वक्‍त नेट्स में खूब पसीना बहा रही हैं। पूर्व भारतीय खिलाड़ी संजय मांजरेकर का मानना है कि ऑस्‍ट्रेलिया में भारतीय बल्‍लेबाजों का इंग्‍लैंड और साउथ अफ्रीका केे मुकाबले प्रदर्शन अच्‍छा रहेगा।

हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स से बातचीत के दौरान संजय मांजरेकर ने कहा, “दोनों ही टीमों की ताकत गेंदबाजी अटैक है। नाथन लियोन के आने के बाद ऑस्‍ट्रेलिया का गेंदबाजी अटैक बेहतर हुआ है। भारत की बल्‍लेबाजी के साथ कई समस्‍याएं हैं। यहां तक की ऑस्‍ट्रेलया का बल्‍लेबाजी क्रम भी काफी खराब स्थिति में है।”

मांजरेकर ने कहा, “भारत ने साउथ अफ्रीका और इंग्‍लैंड में अच्‍छा प्रदर्शन किया, लेकिन स्‍कोरलाइन खिलाड़ियों का प्रदर्शन नहीं दर्शाती। मुझे उम्‍मीद है कि ऑस्‍ट्रेलिया में हमारी टीम बड़ा स्‍कोर बनाने में कामया‍बी हासिल करेगी।”

विराट के अलावा साउथ अफ्रीका और इंग्‍लैंड में अन्‍य कोई बल्‍लेबाज ज्‍यादा रन नहीं बना पाया। मांजरेकर का मानना है कि कुछ बल्‍लेबाजों के साथ तकनीकी की समस्‍या है तो कुछ अन्‍य के साथ टैंपरामेंट इशू है। यहां टैंपरामेंट से मतलब खिलाड़ियों में आत्‍मविश्‍वास की कमी से है।

रोहित को मिले टीम में जगह

संजय मांजरेकर ने कहा, “विदेशों में केएल राहुल, मुरली विजय, अजिंक्‍य रहाणे, चेतेश्‍वर पुजारा जैसे बल्‍लेबाजों का ग्राफ भी नीचे चला जाता है। मैं पहले टेस्‍ट में रोहित शर्मा को जगह देना चाहूंगा। अगर पृथ्‍वी नहीं खेल रहा है तो रोहित उसकी जगह तेजी से रन बटोर सकता है। वो पेस और बाउंस को अच्‍छे से खेलता है। इंग्‍लैंड और साउथ अफ्रीका के मुकाबले ऑस्‍ट्रेलिया में गेंद बल्‍ले पर अच्‍छे से आती है। मैं अफ्रीका और इंग्‍लैंड में रोहित को टीम में जगह नहीं देता लेकिन ऑस्‍ट्रेलिया के मैदानों पर वो अच्‍छा प्रदर्शन करेगा। टेस्‍ट में वो नंबर-6 पर अच्‍छा खेल दिखा सकता है।”

इशांत, बुमराह और शमी की जोड़ी रहेगी कामयाब

संजय मांजरेकर ने कहा, “इशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्‍मद शमी की मौजूदगी में तेज गेंदबाजी अटैक इंग्‍लैंड के खिलाफ काफी शानदार था। ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ इसी गेंदबाजी अटैक के साथ हमें उतरना चाहिए। मैं तीन गेंदबाज और एक स्पिनर के साथ मैदान में उतरना पसंद करुंगा।”