India women cricketers will challenge Aussies: Nooshin Al Khadeer

पूर्व भारतीय महिला क्रिकेटर और रेलवे की मौजूदा कोच नूशिन अल खादीर का मानना है कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम इस साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने पहले दिन-रात्रि टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई टीम को चुनौती देगी. भारतीय महिला टीम को इस साल सितंबर-अक्टूबर में ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान गुलाबी गेंद से दिन-रात्रि टेस्ट खेलना है. इसके अलावा वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे और तीन टी 20 मैच की सीरीज भी खेलेगी.

नूशिन ने कहा, “गुलाबी गेंद से टेस्ट खेलना भारतीय महिला टीम के लिए नया है लेकिन जब भी टीम से उम्मीदें नहीं रहती हैं तो महिला टीम अच्छा प्रदर्शन करती है.” नूशिन ने भारत के लिए पांच टेस्ट और 78 वनडे मुकाबले खेले हैं. वह 2003 में नंबर-1 खिलाड़ी बनी थीं.

नूशिन ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, “मुझे याद है हम 2006 में इंग्लैंड दौरे पर गए थे और अपने पहले टी20 मुकाबले में हमने इंग्लिश टीम को हराया था. हमने उसी दौरे में टेस्ट मैच भी जीता था जबकि किसी को हम लोगों से ऐसे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं थी. टेस्ट खेलना बहुत जरूरी है क्योंकि इसमें खिलाड़ियों के कौशल का टेस्ट होता है, इसलिए इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट करने से अच्छा कुछ नहीं है.”

नूशिन ने कहा, “हमारे पास मिताली राज, पूनम राउत, हरमनप्रीत कौर, दीप्ति शर्मा और स्मृति मंधाना के रूप में अच्छे बल्लेबाजी हैं जबकि झूलन गोस्वामी जैसे अनुभवी गेंदबाज हैं. मेरा मानना है कि हमारी टीम ऑस्ट्रेलियाई को अच्छी चुनौती देगी.”