Indian Bowling coach  Bharat Arun: It’s a dream to have a bowler like him Jasprit Bumrah
जसप्रीत बुमराह (IANS)

भारतीय क्रिकेट टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत के बाद भारतीय तेज गेंदबाजों की जमकर तारीफ की। टीम इंडिया के पेसर्स जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओवल में हुए आईसीसी विश्व कप मैच में 3-3 विकेट लिए और भारत को 36 रनों से जीत दिलाई।

मैच के बाद कोच अरुण ने तेज गेंदबाजों की, खासकर बुमराह की काफी तारीफ की। उनका मानना है कि बुमराह जैसा गेंदबाज आपकी टीम में होना सपने जैसा है। अरुण ने कहा, “बुमराह जैसा गेंदबाज होना सपने जैसा है। वो पारी के शुरुआत में और आखिर में दुनिया का सबसे बेहतरीन गेंदबाज है।”

उन्होंने कहा, “मेरा काम भुवी और बुमराह को उनकी पुरानी योजनाओं के बारे में याद दिलाना है, जो कि पहले उनके लिए काम कर चुकी हैं। हमारी योजना बुमराह और भुवी से गेंदबाजी अटैक शुरू करवाने की थी क्योंकि वो इंग्लिश हालातों गेंद से हरकत करवाते हैं और वो डेथ ओवर में अच्छी गेंदबाजी करते हैं।”

VIDEO: विराट ने बताया आखिर क्‍यों उन्‍होंने फैन्‍स को स्मिथ को चीटर कहने से रोका

बुमराह और भुवी ने विश्व कप में भारत के पहले दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन किया लेकिन टीम इंडिया के तीसरे पेसर मोहम्मद शमी अब तक प्लेइंग इलेवन में नजर नहीं आए। अरुण से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “आपको अपने मौकों का इंतजार करना होगा और जब भी मौका मिले उसका फायदा उठाने के लिए तैयार रहना होगा।”

तेज गेंदबाजों के साथ साथ अरुण ने 24 साल के स्पिनर कुलदीप यादव का भी समर्थन किया, जिन्होंने खराब आईपीएल सीजन के बाद विश्व कप में शानदार वापसी की है। उन्होंने कहा, “हर गेंदबाज एक समय से गुजरता है जहां उन्हें मार पढ़ती है। ये मेरा काम है कि उसे अतीत में की गई सभी अच्छी चीजों के बारे में याद दिलाएं और उसका आत्मविश्वास बढ़ाए।”

पढ़ें:- स्‍टीवन स्मिथ को फैन्‍स ने बुलाया चीटर तो बचाव में उतरे विराट कोहली, कहा..

353 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम को सबसे अहम बल्लेबाज डेविड वार्नर का विकेट भारतीय टीम के लिए सबसे अहम रहा। पारी की शुरुआत करने आए वार्नर ने ऑस्ट्रेलिया की जीत की नींव रखी और अर्धशतक जड़ा लेकिन सेट होने के बाद बड़ी पारी की तरफ बढ़ने के पहले ही वार्नर युजवेंद्र चहल का शिकार हुए। ओवल में खेले गए इस मैच में वार्नर ने अपने स्वभाव से विपरीत धीमी बल्लेबाजी की। उन्होंने 84 गेंदो पर 66.67 की स्ट्राइक रेट से 56 रन बनाए, जिसके पीछे भारतीय तेज गेंदबाजों का हाथ रहा।

गेंदबाजी कोच ने बताया की टीम ने सोची समझी योजना के तहत वार्नर के खिलाफ शॉर्ट गेंद कराई जो कि काम कर गई। उन्होंने कहा, “वार्नर के खिलाफ शॉर्ट लेंथ गेंदबाजी करना हमारी योजना थी और आपने देखा कि ज्यादातर छोटी गेंदों पर वो सहज नहीं था।”

युवराज सिंह कर सकते हैं रिटायरमेंट का ऐलान

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा और शिखर धवन की धीमी शुरुआत का बचाव करते हुए उन्होंने कहा, “इंग्लैंड में गेंद हरकत करती है। आपने ये देखा होगा जब इंग्लैंड टीम बांग्लादेश के खिलाफ खेल रही थी, वो पांच ओवर में केवल 9 रन पर थे और पावरप्ले के आखिर तक 60 पर पहुंच गए। अगर आप शुरुआत में हालात को समझ लेते हैं तो बाद में अटैक कर सकते हैं।”