Indian openers struggle for runs in England, South Africa but performed well against Sri Lanka
Murali Vijay © Getty Image

भारत और इंग्‍लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्‍ट सीरीज खेली जा रही है। सीरीज में अभी दो टेस्‍ट मैच ही खेले गए हैं। इन दो मैचों के दौरान ही भारतीय बल्‍लेबाजों की इंग्‍लैंड की तेज और उछाल भरी पिचों पर कमजोरी खुल कर सामने आ गई है। मुरली विजय लॉर्ड्स टेस्‍ट की दोनों पारियों में शून्‍य पर आउट हुए। केएल राहुल ने लॉर्ड्स की दो पारियों में आठ और 10 रन बनाए।

लॉर्ड्स टेस्ट में बिना कुछ किए आदिल राशिद के नाम दर्ज अनूठा रिकॉर्ड
लॉर्ड्स टेस्ट में बिना कुछ किए आदिल राशिद के नाम दर्ज अनूठा रिकॉर्ड

ओपनर्स का अफ्रीका में 13 तो इंग्‍लैंड में 10.37 का औसत

मुरली विजय ने बर्मिंघम टेस्‍ट में भी 20 और छह रनों की पारी खेली थी। इस मैच में सलामी बल्‍लेबाज के तौर पर टीम में लिए गए शिखर धवन ने 26 और 13 रन की पारी खेली थी। एशियाई सरजमीं और दक्षिण अफ्रीका व इंग्‍लैंड के खिलाफ भारतीय सलामी बल्‍लेबाजों के प्रदर्शन को लेकर एक आकड़ा सामने आया है। साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय सलामी बल्‍लेबाजों ने 13.66 की औसत से रन बनाए तो इंग्‍लैंड के खिलाफ पहले दो मैचों के दौरान भारतीय सलामी बल्‍लेबाजों की औसत गिरकर 10.37 की रह गई।

श्रीलंका के खिलाफ सात गुना तक बढ़ जाती है औसत

वहीं, भारतीय टीम जब श्रीलंका के खिलाफ खेलने उतरती है तो सलामी बल्‍लेबाजों का औसत बढ़कर 75 तक पहुंच जाता है। श्रीलंका के खिलाफ पिछली दो सीरीज मे भारतीय सलामी बल्‍लेबाजों का औसत 74.12 और 57 का रहा है। इससे साफ है कि भारतीय टीम  श्रीलंका से खेलकर नए कीर्तिमान स्‍थापित करने में अव्‍वल है। जब उन्‍हें साउथ अफ्रीका और इंग्‍लैंड जैसी टफ कंडीशन में खेलना पड़ता है तो बल्‍लेबाजी क्रम की पोल खुल जाती है। लॉर्ड्स में भारतीय पारी का 107 और 130 पर ऑलआउट होना इसी का एक उदाहरण है।

साल 2017 में भारत से दो बार टेस्‍ट सीरीज हारी श्रीलंका

साल 2017 में जुलाई-अगस्‍त महीने में भारतीय टीम श्रीलंका गई। यहां हमने टेस्‍ट सीरीज में मेजबान टीम पर 3-0 से जीत दर्ज की। इसी साल नवंबर-दिसंबर में भारतीय सरजमीं पर श्रीलंका को भारतीय धुरंधरों ने 1-0 से हराया। तीन मैचों की सीरीज के दो मैच ड्रॉ रहे थे।