टीम इंडिया © Getty Images
टीम इंडिया © Getty Images

हाल ही में खबर आई थी कि पाकिस्तान में विश्व एकादश और पाकिस्तान के बीच होने वाली टी20 सीरीज में भारतीय खिलाड़ी खेल सकते हैं लेकिन अब इस संभावना पर बीसीसीआई ने लगभग रोक लगा दी है। बोर्ड सेक्रेटरी अमिताभ चौधरी ने सोमवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि विश्व एकादश टीम का चयन होने के बाद ही वह भारतीय खिलाड़ियों के पाकिस्तान जाने के बारे में फैसला करेंगे। उन्होंने कहा, “हमें विश्व एकादश टीम का चयन हो जाने तक रुकना चाहिए क्योंकि अगर सीरीज का शेड्यूल हमारे खिलाड़ियों के शेड्यूल से टकराएगा तो भारतीय खिलाड़ी चयन के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे।”

आईसीसी द्वारा आयोजित इस सीरीज के तहत पाकिस्तान में तीन अंतर्राष्ट्रीय टी20 मैच खेले जाएंगे। आईसीसी ने ये सीरीज पाकिस्तान में इसलिए आयोजित की है ताकि वहां क्रिकेट की वापसी हो सके। लगभग एक दशक से पाकिस्तान की जमीं पर कोई अंतर्राष्ट्रीय मैच नहीं खेला गया है, ये सीरीज पाकिस्तान क्रिकेट के लिए सुनहरा मौका है। अगर इस सीरीज का आयोजन सफल और सुरक्षित तरीके से हो जाता है तो मुमकिन है आने वाले समय में पाकिस्तान में और टीमें दौरा करने आएंगी। [ये भी पढ़ें: महेंद्र सिंह धोनी के साथ बेटे की फोटो पर सरफराज़ अहमद का बड़ा खुलासा]

पाकिस्तान टीम ने हाल ही में भारत को 180 रनों से हरा पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता है। पाक टीम के कप्तान सरफराज़ का मानना है कि इससे पाकिस्तान में क्रिकेट की वापसी की संभावनाएं बढ़ जाएंगी और ऐसा ही हुआ। चैंपियंस ट्रॉफी खत्म होने के साथ ही 24 जून को आईसीसी ने इस सीरीज का ऐलान कर दिया। हालांकि अभी तक विश्व एकादश टीम घोषित नहीं की गई है। माना जा रहा है कि इस टीम में विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी जैसे शीर्ष खिलाड़ी हो सकते हैं लेकिन अब बीसीसीआई के इस बयान के बाद भारतीय खिलाड़ियों का वहां जाना मुश्किल है।