‘चंद्रयान-दो’ के लैंडर ‘विक्रम’ के चंद्रमा की सतह पर पहुंचने से कुछ ही मिनटों पहले उससे संपर्क टूट जाने के बाद खेल जगत ने शनिवार को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान (इसरो) के वैज्ञानिकों की तारीफ करते हुए अगली बार मजबूती से वापसी करने को कहा।

गौरतलब है कि ‘चंद्रयान-दो’ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया था। सपंर्क तब टूटा जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था। मिशन के पूरी तरह से सफल नहीं होने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नासा ने वैज्ञानिकों की तारीफ की।

भारतीय खेल जगत ने भी सोशल मीडिया के जरिए वैज्ञानिकों के इस अथक प्रयास की तारीफ की। क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने ट्वीट किया, ‘‘विज्ञान में असफलता जैसा कुछ नहीं है, हम प्रयोग करते हैं और हमें फायदा होता है। इसरो में वैज्ञानिकों के लिए बहुत सम्मान जिन्होंने दिन-रात लगातार काम किया। राष्ट्र को आप पर गर्व है, जय हिंद।’’

पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘ये विफलता तभी है जब हम अपनी असफलताओं से सीख नहीं लेते हैं। हम और मजबूत होकर लौटेंगे। मैं इसरो की महान टीम भावना को सलाम करता हूं कि उन्होंने एक अरब भारतीयों को एक साथ, एक जैसा सपना दिखाया। सर्वश्रेष्ठ निश्चित रूप से अभी आना बाकी है।’’

पढ़ें:- हैट्रिक लेकर लसिथ मलिंगा ने टी20 रैंकिंग ने लगाई लंबी छलांग

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में उस वीडियो को पोस्ट किया जिसमें मोदी निराश और भावुक दिख रहे इसरो प्रमुख के. सिवन को गले लगाते और उन्हें दिलासा देते हुए भी देखे गए। गंभीर ने इस ट्वीट में लिखा, ‘‘ऐ चाँद छू लेंगे तुझे भी जल्द ही, अभी ज़रा कुछ दिलों को छू लें!!! ये तस्वीरें भारत और मानवता को परिभाषित करती हैं। नरेंद्र मोदी सर और के. सिवन आप पर गर्व है।’’

वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया, ‘‘ख्वाब अधूरा रहा पर हौसलें ज़िंदा हैं, इसरो वो है, जहां मुश्किलें शर्मिंदा हैं। हम होंगे कामयाब।’’

विकेटकीपर रिषभ पंत ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘इसमें असफलता जैसी कोई बात नहीं है। यहां से केवल ऊपर और आगे बढ़ सकते हैं। इसरो हमें आप पर गर्व है, हम राष्ट्र की सेवा में आपकी कड़ी मेहनत और समर्पण को सलाम करते हैं।’’

पढ़ें:- मैं एक दिन इंग्लैंड का कोच बनना चाहूंगा: एंड्रयू फ्लिंटॉफ

पहलवान गीता फोगाट ने ट्वीट किया, ‘‘लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। पूरे भारत वर्ष को इसरो पर गर्व है।’’

ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘हमें गर्व है अपने वैज्ञानिकों पर और यकीन है की अगले प्रयास में सफलता ज़रूर मिलेगी। जय हिंद, जय भारत।’’

अमेरिका में अपने वकील के संपर्क में हैं शमी, गुरूवार को भारत लौटेंगे

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में मोदी द्वारा इसरो प्रमुख को दिलासा देने वाले वीडियो के साथ लिखा, ‘‘ये दृश्य देखकर लग रहा है कि यही हिन्दुस्तान की असली जीत है, जहाँ देश के प्रधानमंत्री इसरो प्रमुख को हौसला दे रहे हैं। धन्यवाद प्रधानमंत्री जी इस समय वैज्ञानिकों के साथ एक पिता की तरह खड़े होने के लिए।’’