indian wicketkeeper rishabh pant conned by haryana cricketer mrinank singh for INR 1 63 crore case filed

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को 1.63 करोड़ रुपये का चूना लग गया है। और यह किसी और ने नहीं बल्कि हरियाणा के क्रिकेटर मृणाक सिंह (Mrinank Singh) ने लगाया है। भारतीय विकेटकीपर को मृणाक ने लग्जरी घड़ियां (Rishabh Pant Luxury Watches) सस्ते दामों में दिलाने का वायदा कर ठग लिया। इसके साथ ही उसने लग्जरी सामान, जिसमें गहने भी शामिल थे, लिए लेकिन लौटाए नहीं। पंत को न घड़ियां मिलीं, न सामान और न ही पैसे।

मृणाक फिलहाल किसी अन्य मामले में मुंबई के आर्थर रोड जेल में बंद है। उसे जुहू पुलिस ने किसी व्यापारी को ठगने के आरोप में गिरफ्तार किया था। यह मामला हालांकि अभी सामने आया है लेकिन मृणाल ने पंत को जो चेक दिए थे, वे भी बाउंस हो गए। पंत के वकील एकलव्य द्विवेदी ने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में पूरा मामला बताया।

द्विवेदी ने कहा, ‘यह वास्तव में नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट ऐक्ट के तहत मामला बनता है जहां आरोप मृणाक सिंह ने का चेक अकाउंट में बैलंस न होने की वजह से बाउंस हो गया।’ द्विवेदी ने स्पोर्ट्स तक के साथ बातचीत में कहा कि मृणाक ऋषभ पंत को क्रिकेट के जरिए जानता था। वे आपस में किसी जोनल क्रिकेट अकादमी में मिले थे।

रिपोर्ट्स की मानें तो मृणांक पंत को करोड़ों की कीमत वाली महंगी लग्जरी घड़ियां सस्ते दामों पर दिलाने का लालच दिया था। मृणाक ने पंत को फ्रेंक मुलर वैनगार्ड सीरीज की क्रेजी कलर वॉच 36 लाख 25 हजार रुपए और और रिचर्ड मिली वॉच 62 लाख 60 हजार रुपए में देने का वादा किया था। उसने पंत से इसके लिए अडवांस भी ले लिया था। मृणाक 2018 में आईपीएल नीलामी में भी शामिल हुआ था लेकिन किसी भी फ्रैंचाइजी ने उसे खरीदा नहीं था।