India’s experienced bowling attack created the difference, saya Ottis Gibson
ओटिस गिब्सन © Getty Images

दक्षिण अफ्रीका के कोच ओटिस गिब्सन ने कहा है कि टी20 सीरीज में विराट कोहली की टीम की जीत में गेंदबाजी अटैक के अनुभव ने दोनों टीमों के बीच बड़ा अंतर पैदा किया। भारत ने तीसरे टी20 में सात रन की जीत के साथ सीरीज 2-1 से जीती। जिसके बाद गिब्सन ने कहा, ‘‘अनुभव बड़ा अंतर रहा, भारत के पास जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार थे जो दो काफी अनुभवी खिलाड़ी हैं। हमारे पास क्रिस मॉरिस और डेब्यू कर रहे जूनियर डाला थे। भारत के लिए ही नहीं बल्कि तीन-चार साल आईपील में खेलने का अनुभव भी दिखा।’’

टी20 में शानदार प्रदर्शन के दम पर वनडे टीम में वापसी की उम्मीद कर रहे हैं सुरेश रैना
टी20 में शानदार प्रदर्शन के दम पर वनडे टीम में वापसी की उम्मीद कर रहे हैं सुरेश रैना

अपने गेंदबाजों के बारे में गिब्सन ने कहा, ‘‘जूनियर ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन मॉरिस को काफी काम करने की जरूरत है। वह हमारे लिए मैच विनर है लेकिन उसे अपनी गेंदबाजी में अधिक निरंतरता दिखाने की जरूरत है।’’ दक्षिण अफ्रीका को चोटों के कारण सीरीज से बाहर रहे एबी डी विलियर्स और फॉफ ड्यू प्लेसी जैसे सीनियर खिलाड़ियों की कमी भी खली। मेजबान टीम को नए चेहरों के साथ उतरना पड़ा।

हालांकि गिब्सन डाला, हेनरिक क्लासेन और क्रिस्टियन जोंकर जैसे खिलाड़ियों के प्रदर्शन से प्रभावित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमने वनडे मैचों में रोमांचक नए खिलाड़ी देखे। लुंगी एनगिडी ने पदार्पण किया, क्लासेन ने भी और वो शानदार रहा। इस टी20 सीरीड में डाला भी काफी अच्छा रहे और हमने जोंकर को भी देखा। वो भी अच्छा है।’’

गिब्सन ने कहा, ‘‘हार हमेशा आसान नहीं होती लेकिन जब इतने सारे सीनियर खिलाड़ी नहीं खेल रहे हों और आप नए खिलाड़ियों के साथ खेल रहे हों तो नतीजा देना मुश्किल हो जाता है। लेकिन फिर आप भविष्य की ओर देखते हो और उनकी तरफ देखते हो तो लगता है कि भविष्य उज्जवल है।’’

(पीटीआई के इनपुट के साथ)