टीम इंडिया © AFP
टीम इंडिया © AFP

श्रीलंका के खिलाफ दूसरे वनडे मैच की तैयारी में जुटी टीम इंडिया से हाल ही में वैकल्पिक ट्रेनिंग सेशन के दौरान नई ट्रेनिंग किट को इस्तेमाल करने को कहा गया। इस दौरान मैदान पर एमएस धोनी, मनीष पांडे, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, केदार जाधव और कुलदीप यादव मौजूद थे। नई किट के साथ प्रैक्टिस करने के बाद खिलाड़ियों से नाइकी की इस किट के बारे में फीडबैक लिया गया। उल्लेखनीय है कि भारतीय टीम की किट का ऑफिसियल स्पॉन्सर नाइकी है।

सूत्रों ने कहा, “खिलाड़ी इस नई किट का इस्तेमाल यहां और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली जाने वाली सीमित ओवर सीरीज में करेंगे। ये सीरीज सितंबर-अक्टूबर में आयोजित होगी। खिलाड़ी किट के बारे में क्या बताते हैं उसके आधार पर नाइकी इसके ऑफिसियल लॉन्च को निश्चित करेगा।”

किट का बदला जाना एक ध्यान देने योग्य कदम है क्योंकि खिलाड़ियों को इससे परेशानी का सामना करना पड़ रहा था जिसके बाद बीसीसीआई ने प्लेइंग और ट्रेनिंग क्लोथिंग की क्वालिटी पर सवाल उठाए थे। खबरों के मुताबिक खिलाड़ियों की चिंता को पिछली सीओए मीटिंग में गंभीरता से लिया गया था। राहुल जौहरी ने एक अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, “नाइकी के कपड़ों के बारे में बातचीत पिछली सीओए मीटिंग में हुई थी और चेयरमेन विनोद राय ने इसे बहुत गंभीरता से लिया। टीम के पास घटिया किट नहीं होनी चाहिए और हमने नाइकी से बातचीत करते हुए कहा है कि हमारे मुद्दे को मजबूती से रखा जाए। हमें उनसे बातचीत करनी होगी, हमारी नाइकी के साथ अगले हफ्ते मीटिंग है और हम इस मुद्दे को जल्दी सुलझाने की कोशिश करेंगे।”

[ये भी पढ़ें: शाहिद अफरीदी ने जड़ा पहला टी20 शतक, मारे छक्के ही छक्के]

पल्लेकेले स्टेडियम में मौजूद नाइकी के प्रतिनिधि ने नई किट पर कोई भी बयान देने से इंकार कर दिया। कंपनी का मौजूदा कॉन्ट्रेक्ट सितंबर 30, 2020 तक चलेगा, और इस दौरान वे हर मैच का 87,34,000 रुपए भुगतान करेंगे।