भारत बनाम साउथ अफ्रीका © Getty Images (File Photo)
भारत बनाम साउथ अफ्रीका © Getty Images (File Photo)

भारतीय क्रिकेट टीम नए साल की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका दौरे के साथ करेगी जिसका पहला मैच पांच या छह जनवरी से केपटाउन में खेला जाएगा। ईएसपीएन क्रिकइंफो के अनुसार दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड अगले कुछ दिनों में मैचों की फाइनल तारीखों का ऐलान करेंगे। साल की शुरुआत से बातचीत करने के बावजूद सीएसए और बीसीसीआई अब तक कार्यक्रम तय नहीं कर पाए हैं। आईसीसी के कार्यक्रम के हिसाब से इस दौरे पर चार टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैच खेले जाने हैं।

बीसीसीआई ने पहले ही साफ कर दिया है कि भारतीय टीम इस साल के अंतिम हफ्ते से पहले दक्षिण अफ्रीका नहीं जाएगी क्योंकि श्रीलंका के खिलाफ उसकी घरेलू सीरीज 24 दिसंबर को खत्म होगी। भारतीय क्रिकेट बोर्ड चाहता है कि दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पहले उसके खिलाड़ियों को थोड़ा आराम मिले। साथ ही बीसीसीआई ने बड़ी सीरीज से पहले टीम के लिए तैयारी के समय पर भी जोर दिया है और कम से कम एक अभ्यास मैच खेलने का नियम बनाया है। हमेशा से न्यूलैंड्स में नये साल का टेस्ट दो जनवरी से शुरू होता है। [ये भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या से 3 छक्के खाने के बाद एडम जंपा ने बयां किया अपना ‘दर्द’]

सीएसए पहला टेस्ट चार जनवरी से कराना चाहता है जिससे कि मैच की टिकटों से ज्यादा से ज्यादा कमाई की जा सके क्योंकि दक्षिण अफ्रीका में आम तौर पर छुट्टियों के हफ्ते के दौरान मैच के सभी टिकट बिक जाते हैं। बीसीसीआई से जुड़े एक अधिकारी के हवाले से कहा गया, “भारतीय टीम के अब दिसंबर के आखिरी दिनों में आने की उम्मीद है और पहले टेस्ट से पहले एक अभ्यास मैच जरूर खेलेगी।” सीएसए और बीसीसीआई के बीच चर्चा और मुश्किल हो गई थी क्योंकि भारतीय क्रिकेट बोर्ड इससे खुश नहीं था कि दक्षिण अफ्रीका बोर्ड ने ऑस्ट्रेलियाई सीरीज का कार्यक्रम पहले ही तय कर लिया है जबकि वह सीरीज एक मार्च से शुरू होगी। [ये भी पढ़ें: कोलकाता वनडे से पहले ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को सता रहा है ‘डर’!]

एक मार्च से दक्षिण अफ्रीका-ऑस्ट्रेलिया सीरीज शुरू होने से भारत दौरे का कार्यक्रम काफी व्यस्त हो गया है। अधिकारी ने कहा, “अब सीएसए सब कुछ कम समय में निपटाने की कोशिश कर रहे हैं।” दक्षिण अफ्रीका दौरे के तुरंत बाद भारत टी20 ट्राई सीरीज खेलने के लिए श्रीलंका जाएगा जिसके बाद सभी खिलाड़ी आईपीएल के लिए स्वदेश लौटेंगे।