Inning against Mumbai helps me get back confidence, says Virat Kohli
Virat Kohli @ Twitter

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा है कि आईपीएल-13 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ सुपर ओवर में खेली गई पारी से उन्हें अपनी फॉर्म वापस पाने में मदद मिली है। कोहली ने 28 सितंबर को मुंबई इंडियंस के खिलाफ सुपर ओवर में बल्लेबाजी की थी, जहां उन्होंने अपनी टीम को जीत दिलाई थी।

कोहली ने इसके बाद शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 90 रनों की नाबाद पारी खेली। अपनी इस पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए। उनकी पारी के दम पर ही बेंगलोर ने चेन्नई को 170 रनों की चुनौती दी थी जिसके सामने तीन बार की विजेता 37 रनों से मैच हार गई।

जीवा को दुष्‍कर्म करने की धमकी मिलने के बाद रांची में बढ़ी MS Dhoni के फॉर्म हाउस की सुरक्षा

कोहली ने चेन्नई के खिलाफ मैच से पहले पिछले दो मैचों में 43 और नाबाद 72 रनों की पारी खेली थी। उससे पहले वह 14, 1 और 3 रन ही बना पाए थे।

कोहली ने चेन्नई के मैच के बाद कहा, ” इससे पहले, मैं बहुत ज्यादा कुछ करने की सोच रहा था। अगर आप जिम्मेदारियों के बारे में ज्यादा सोचेंगे, तो इससे आपके ऊपर ज्यादा बोझ बढ़ जाएगा और एक खिलाड़ी के रूप में नहीं खेल पाएंगे। टीम की सफलता के लिए आपके कौशल का होना जरूरी है।”

” वह सुपर ओवर जहां मुझे रन बनाने थे और वहां मैं आउट हो गया और हम मैच हार गए थे। इसके बाद मैंने ट्रेनिंग का आनंद लेना शुरू कर दिया और फिर बल्लेबाजी के लिहाज से अगले कुछ सेशन काफी अच्छे थे। मैं पिछले मैच में भी गेंद को अच्छे से हिट कर रहा था और आज भी यही चाहता था। इन सभी दिनों में ट्रेनिंग से भी अच्छी मदद मिली है।”

महेंद्र सिंह धोनी के आलोचकों पर मुझे तरस आता है: किरमानी

कोहली ने चेन्नई के खिलाफ 39 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर इसके बाद उन्होंने 13 गेंदों पर 37 रन और जोड़ डाले।

कप्तान ने कहा, “हर एक गेंद को हिट करने के बजाय मैं परिस्थितियों को समझने की कोशिश कर रहा था। यही अनुभव है और काफी क्रिकेट खेलने से, खासकर टी-20 क्रिकेट खेलने मैं इतना तो समझ गया हूं कि अगर आप सेट हो चुके हैं तो आप डेथ ओवरों में हिट कर सकते हैं।”