गौतम गंभीर © AFP
गौतम गंभीर © AFP

कोलकाता टीम के कप्तान गौतम गंभीर आजकल इतने बेहतरीन फॉर्म में है कि वह क्रिकेट मैदान पर ही कई तरह के नए स्ट्रोक इजाद करने में अपना योगदान देने लगे हैं। 28 मार्च को कोलकाता नाइटराइडर्स बनाम दिल्ली डेयरडेविल्स मैच में उनकी टीम ने 7 विकेट से जीत दर्ज कर ली। इस दौरान गंभीर शानदार टच में नजर आए और 52 गेंदों में 71* रन ठोंक डाले। इस पारी के दौरान उन्होंने 11 चौके लगाए। लेकिन इन चौकों में एक ऐसा चौका भी था जिसने हर किसी को उनकी तारीफ करने को विवश कर दिया। ये बात केकेआर की पारी के 10वें ओवर की है। कोरी एंडरसन ने गंभीर को धीमी बाउंसर गेंद फेंकी। गंभीर आनन- फानन में अपने पिछले कदमों पर गए और और किसी टेनिस खिलाड़ी की तरह उन्होंने स्ट्रोक को चार रनों के लिए बाउंड्री लाइन के बाहर पहुंचा दिया।

गंभीर इस मैच में 71 रन बनाकर अंत तक नाबाद रहे। गंभीर का यह आईपीएल में 35वां अर्धशतक था। इसके अलावा वह टी20 क्रिकेट में सुरेश रैना, विराट कोहली और रोहित शर्मा के बाद 6,000 रन बनाने वाले चौथे भारतीय बल्लेबाज भी बने। इसके अलावा गंभीर ने आईपीएल में बतौर कप्तान सबसे ज्यादा रन बनाने वाले एमएस धोनी के रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ दिया। इसके अलावा गंभीर के नाम आईपीएल में सर्वाधिक बार लक्ष्य का पीछा करने के दौरान 19 अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। ये भी पढ़ें-आईपीएल 10: कोलकाता नाइट राइडर्स की 7वीं जीत, दिल्ली को 7 विकेट से हराया

 

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली डेयरडेविल्स ने 20 ओवर में 6 विकेट पर 160 का स्कोर बनाया था। संजू सैमसन ने 60, श्रेयस अय्यर ने 47 रन बनाए थे। नाथन कूल्टर नाइल ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए। जवाब में बल्लेबाजी करने उतरी केकेआर ने लक्ष्य को 16.2 ओवरों में 161 रन बनाकर हासिल कर लिया। गौतम गंभीर के अलावा रॉबिन उथप्पा ने 33 गेंदों में 59 रन ठोंके।