रिषभ पंत  © AFP
रिषभ पंत © AFP

भारतीय क्रिकेटर रिषभ पंत के पिता राजेंद्र पंत का बुधवार को उनके घर रुड़की में निधन हो गया। वह 53 साल के थे। रिषभ के अलावा वे उनकी मां और बेटी साक्षी को पीछे छोड़ गए। राजेंद्र का हरिद्वार के कंखाल में अंतिम संस्कार गुरुवार को कर दिया गया। सतीष नेगी जो उनके परिवार के करीबी हैं उन्होंने बताया, “राजेंद्र दिल का दौरा पड़ने से नींद में ही चल बसे। वह पिछले कुछ दिनों से थकान की शिकायत कर रहे थे। वह बुधवार को अपने कमरे में गए थे लेकिन जब परिवार के सदस्य उन्हें डिनर के लिए बुलाने गए तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। उन्हें प्राइवेट क्लीनिक ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।”

रिषभ पंत जो मौजूदा समय में आईपीएल से जुड़े हुए हैं वह पिछले दिनों दिल्ली में थे। अब वह भी अपने घर अशोक नगर रुड़की पहुंच गए हैं। पंत ने अपने पहले रणजी सीजन में चार शतक मार दिए थे- जिसमें महाराष्ट्र के खिलाफ एक तिहरा शतक और झारखंड के विरुद्ध सबसे तेज रणजी शतक शामिल था। 19 साल के रिषभ के कंधों पर इस बार आईपीएल में ज्यादा जिम्मेदारी है क्योंकि इस साल दिल्ली डेयरडेविल्स के दो बड़े खिलाड़ी क्वींटन डी कॉक और जेपी डुमिनी पहले से ही बाहर हो चुके हैं। ऐसे में पंत को अपने बेहतरीन प्रदर्शन से इन दोनों की कमी को पाटना होगा। इसके अलावा श्रीलंका के एंजेलो मैथ्यूज का भी हैमस्ट्रिंग की चोट के कारण खेलना संदिग्ध है। ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: केकेआर के खिलाफ अपने जीत के सिलसिले को बरकरार रखने के लिए उतरेगी गुजरात लायंस

दिल्ली डेयरडेविल्स, जिसके लिए पिछले तीन सीजन बेहद खराब रहे हैं। वह इस सीजन में जाहिर तौर पर चीजें बदलना चाहेगी और चीजों को अपने पक्ष में लाना चाहेगी। डीडी को अपने पहले मैच में शनिवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर से भिड़ना है।