मोहम्मद सिराज  © BCCI
मोहम्मद सिराज © BCCI

19 अप्रैल एक ऐसा दिन रहा जिस दिन भारत के एक बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाले तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने अपना आईपीएल पदार्पण(डेब्यू) किया और अच्छी बात ये रही कि उनका डेब्यू उनकी टीम सनराइजर्स हैदराबाद के लिए सौगात लेकर आया। हैदराबाद ने साल 2015 के बाद दिल्ली डेयरडेविल्स पर जीत दर्ज करने में सफलता दर्ज की। जाहिर है कि ये जीत हैदराबाद टीम समेत सिराज को खूब रास आई होगी। सिराज जिन्होंने पिछले साल ही प्रथण श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू किया था उनके लिए आईपीएल का पहला मैच शानदार रहा है और उन्होंने 39 रन देकर 2 विकेट झटके।

सिराज जिनका आईपीएल 2017 नीलामी में बेस प्राइस 20 लाख रुपए रहा था उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद ने 2.6 लाख रुपए की मोटी रकम देकर खरीदा था। ऑटो रिक्शा ड्राइवर के बेटे सिराज अपना डेब्यू मैच खेलने के बाद खासे उत्साहित नजर आए और उन्होंने कहा कि वह भविष्य में भुवनेश्वर कुमार के साथ खेलना चाहते हैं।

मैच के बाद आईपीएलटी20 से बातचीत करते हुए, सिराज ने अंतिम एकादश में जगह बनाने के बारे में कहा, “वह एक बेहतरीन पल था। मुझे सुबह पता चल गया था कि मैं डेब्यू करने जा रहा हूं, इसलिए मैं तैयारी करने लगा। आईपीएल का पहला मैच खेलते हुए मैं दबाव में था। लेकिन जो इन बातों को संभाल लेता है वो ही विजेता होता है।” सिराज एक ऐसे तेज गेंदबाजी आक्रमण के साथ खेले जो पहले से ही आशीष नेहरा और भुवनेश्वर कुमार की मौजूदगी में मजबूत है। सिराज ने दोनों ही भारतीय तेज गेंदबाजों की तारीफ की और कहा, “मुझे भुवी और आशीष भाई से बहुत सीखने को मिला है। इस पहले मैच को देखते हुए, मैं उम्मीद करता हूं कि इन तेज गेंदबाजों से मुझे काफी कुछ सीखने का मौका मिलेगा और मैं अपने दूसरे मैच में अच्छी वापसी करूंगा।” फुल स्कोरकार्ड: दिल्ली डेयरडेविल्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद, 21वां मैच 

सैम बिलिंग्स और संजू सैमसन के दो बड़े विकेट लेने के बाद सिराज अपना उत्साह नहीं छिपा पाए। उन्होंने कहा, “जब मैं दोड़ रहा था, मुझे लगा कि किसी ने जैसे मेरे पैर पकड़ लिए हों। जब मैंने पहली गेंद फेंकी, मुझे आराम महसूस हुआ। मैं पहला विकेट हासिल करने के बाद उत्साहित था। अपने दिमाग में मैं दूसरे ओवर में सिर्फ वापसी करने के बारे में सोच रहा था और एसआरएस को मैच जिताने की कोशिश कर रहा था। अगर मैं खाली गेंदें निकालता हूं तो दबाव बल्लेबाज पर बनता है जिससे मुझे अगला विकेट मिला।” सिराज कहते हैं कि उन्हें उम्मीद है कि वे भुवनेश्वर कुमार से बहुत कुछ सीखेंगे। उन्होंने कहा, “भुवी की उपस्थिति से मुझे बहुत मदद मिल रही है। वह मुझे बताते हैं कि किस बल्लेबाज को कैसे गेंद फेंकनी है। उनके साथ मैं ठीक महसूस करता हूं।”