युवराज सिंह और आशीष नेहरा © AFP
युवराज सिंह और आशीष नेहरा © AFP

इंडियन प्रीमियर लीग की शानदार शुरुआत हुई है। टूर्नामेंट के पहले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को चारों खाने चित करते हुए 35 रन से हरा दिया। युवराज सिंह ने इस दौरान धमाकेदार अंदाज में 27 गेंदों में 62 रन ठोंके और पुराने दिनों की यादें ताजा कर दीं। बहरहाल, इस बेहतरीन एक्शन के बीच एसआरएच के आशीष नेहरा आईपीएल में 100 विकेट पूरे करने वाले पहले बाएं हाथ के गेंदबाज बन गए। नेहरा ने अपने अंतिम ओवर में दो विकेट लिए। पहले उन्होंने शेन वॉटसन को आउट किया और बाद में श्रीनाथ अरविंद को आउट किया। उनका गेंदबाजी विश्लेषण 4-0-42-2 रहा। नेहरा ने ये कारनामा अपने 83वें मैच में मुकम्मल किया है और इस दौरान उनका गेंदबाजी औसत 23.4 रहा है। उनके नाम एक चार विकेट हॉल है और इस दौरान उन्होंने 8 रन प्रति ओवर से नीचे का इकॉनमी रेट बरकरार रखा है, जो टी20 में अच्छा माना जाता है। [आईपीएल 10: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर बनाम सनराइजर्स हैदराबाद मैच का फुल स्कोरकार्ड]

नेहरा साल 2008 से आईपीएल खेल रहे हैं। पहले आईपीएल में वह मुंबई इंडियंस टीम का सदस्य थे। अगले सीजन में उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने खरीद लिया। चौथे सीजन में पुणे वॉरियर्स के द्वारा खरीदे जाने के बाद उनके हाथ में चोट लग गई और वह पूरे टूर्नामेंट में नहीं खेल पाए। दो सीजन बाद वह फिर से दिल्ली डेयरडेविल्स में वापस लौटे। साल 2014 सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें 2 करोड़ रुपए में खरीदा। इस सीजन में नेहरा सीएसके के लिए वरदान साबित हुए और 16 मैचों में 22 विकेट निकाले। इस दौरान उनका औसत बेहतरीन 20 का रहा और इकॉनमी रेट 7.2 का रहा। जब सीएसके को 2 साल के लिए आईपीएल से बैन कर दिया गया। एसआरएस ने नेहरा को साढ़े पांच करोड़ रुपए में 2016 आईपीएल में खरीदा। कुल मिलाकर नेहरा अब तक पांच फ्रेंचाइजियों के लिए खेल चुके हैं।