क्रिस लिन और गौतम गंभीर © BCCI
क्रिस लिन और गौतम गंभीर © BCCI

गुरुवार को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ होने वाले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स अपने सबसे विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस लिन के बिना ही उतरेगी। पंजाब के खिलाफ होने वाला मुकाबला कोलकाता अपने घरेलू मैदान ‘ईडन गार्डन’ में खेलेगी। लेकिन लिन के ना खेलने से टीम को बड़ा झटका लगा है। हालांकि टीम के लिए राहत की कभर है कि तेज गेंदबाज उमेश यादव टीम में वापसी के लिए तैयार हैं। लिन ने आईपीएल-10 के 2 मैचों में 125 रन बनाए हैं। मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मुकाबले में लिन के कंधे में चोट लग गई थी। लिन ने राइजिंग पुणे सुपरजायंट के खिलाफ धमाकेदार पारी खेली थी। कोलकाता टीम के प्रबंधन ने कहा है कि उनकी स्वास्थ्य टीम इस पर फैसला आने वाले दिनों में लेगी कि लिन आगे के मैचों में उपलब्ध रहेंगे या नहीं। ये भी पढ़ें: सनराइजर्स हैदराबाद के जीत के रथ को रोकने उतरेगी रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस

हालांकि कोलकाता के लिए खुशी की बात है कि तेज गेंदबाज उमेश यादव चयन के लिए उपलब्ध हैं। उमेश चोटिल होने के कारण पहले 2 मैच नहीं खेल पाए थे। उमेश ने पिछले महीने खत्म हुई ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज में शानदार प्रदर्शन करते हुए 17 विकेट अपने नाम किए थे। मुंबई के खिलाफ हुए मैच में कोलकाता के ट्रेंट बोल्ट और अंकित राजपूत ने अंतिम तीन ओवरों में काफी रन दिए थो जो उसकी हार का कारण बने थे। ऐसे में टीम प्रबंधन अंकित की जगह उमेश को प्लेइंग इलेवन में शामिल कर सकता है। लिन की जगह बांग्लादेश के शाकिब अल हसन को टीम में जगह मिल सकती है। कोलकाता की टीम ने अभी तक 2 मैच खेले हैं, जिनमें टीम को एक में जीत और एक में हार का सामना करना पड़ा है।

वहीं पंजाब ने इस आईपीएल में अच्छी शुरुआत की है और लगातार अपने दोनों मैच जीते हैं। उसके सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला, कप्तान ग्लैन मैक्सवेल और डेविड मिलर इस समय अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और इन तीनों के नाम ही विपक्षी टीम को डराने के लिए काफी हैं। हालांकि, पंजाब का कोलकाता के खिलाफ अच्छा रिकार्ड नहीं है। पंजाब ने इस मैदान पर सिर्फ दो मुकाबले जीते हैं। आखिरी बार उन्होंने यहां 15 अप्रैल 2012 को जीत हासिल की थी। पंजाब ने कोलकाता के खिलाफ सिर्फ छह मैच जीते हैं जबकि 13 मैचों में कोलकाता को जीत मिली है।