विराट कोहली को पहला मैच 5 अप्रैल को खेलना था © IANS
विराट कोहली को पहला मैच 5 अप्रैल को खेलना है © IANS

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने यह संकेत दिए कि वह आईपीएल के शुरुआती मुकाबलों में हिस्सा नहीं लेगे। दरअसल कोहली को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में कंधे पर चोट लगी थी जिसके बाद वह मैदान से बाहर चले गए थे और अजिंक्य रहाणे को कप्तानी संभालनी पड़ी। हालांकि कोहली दूसरी पारी में बल्लेबाजी के लिए आए थे लेकिन इंजरी की वजह से ही वह धर्मशाला में आयोजित चौथे टेस्ट में भी बाहर हो गए। कोहली की जगह कप्तानी करते हुए रहाणे ने टीम इंडिया को आठ विकेट से शानदार जीत दिलाई। मैच के बाद मीडिया के बात करते हुए कोहली ने साफ कहा कि उन्हें पूरे तरह फिट होने में अभी कुछ और हफ्ते लगेंगे।

टीम इंडिया की शानदार जीत के बारे में बात करते हुए कप्तान ने कहा, “अविश्वसनीय, यह हमारी अब तक की सबसे बेहतरीन जीत है। मैंने सोचा था कि इंग्लैंड ज्यादा आक्रामक होगी लेकिन जिस तरह ऑस्ट्रेलिया ने हमे टक्कर दी वह काबिले तारीफ है लेकिन हमारे खिलाड़ियों ने जबरदस्त वापसी की। इससे हमारे चरित्र और अनुभव का पता चलता है। [ये भी पढ़ें: टीम इंडिया ने आठ विकेट से जीता धर्मशाला टेस्ट, 2-1 से सीरीज पर कब्जा]

कोहली ने उनकी जगह कप्तानी करने वाले रहाणे की भी जमकर तारीफ की। कोहली ने कहा, “अजिंक्य ने टीम का अच्छा नेतृत्व किया। सभी खिलाड़ियों ने पूरे सीजन लगातार अच्छा प्रदर्शन किया। इससे पहले हमने कई अच्छे सत्र खेले लेकिन फिर मैच हमारे हाथ से निकल गया लेकिन यह हमारे लिए टीम सीजन रहा। एक या दो नहीं बल्कि हर एक खिलाड़ी ने अपना पूरा योगदान दिया। जिस तरह की फिटनेस का प्रदर्शन तेज गेंदबाजों ने दिखाया उसने मैच का रुख बदल दिया।”  [ये भी पढ़ें: भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया धर्मशाला टेस्ट का पूरा स्कोरकार्ड यहां देखें]

अपनी फिटनेस के बारे में बताते हुए कोहली ने गुजरात लॉयंस के कोच ब्रैड हॉज के उस बयान का जवाब दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि कोहली आईपीएल खेलने के लिए चौथे टेस्ट के बाहर हुए हैं। हॉज ने कोहली पर आरोप लगाते हुए कहा था कि अगर पर 5 अप्रैल को रॉयल चैलेंजर बनाम सनराइजर्स हैदराबाद मैच में खेलते हैं तो यह गलत खेल भावना होगी। उम्मीद है हॉज को उनके इस बेतुके बयान का अच्छा जवाब मिल गया होगा।