स्टीवन स्मिथ और एम एस धोनी © BCCI
स्टीवन स्मिथ और एम एस धोनी © BCCI

आईपीएल कां 30वां मुकाबला जो कि कोलकाता नाइट राइडर्स और राइजिंग पुणे सुपरजायंट के बीच हो रहा है उसके शुरू होने से पहले ही कई क्रिकेट फैंस हैरान रह गए। जैसे ही इस मैच का टॉस हुआ उसके बाद दोनों टीमों के कप्तानों ने अपने फैसले से सभी को हैरत में डाल दिया। इस मैच में कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला किया। टॉस के बाद गंभीर ने मैच के लिए अपनी टीम के बदलावों का जिक्र किया।

गंभीर की प्लेइंग इलेवन में उन्हें पिछला मैच जिताने वाले तेज गेंदबाज कूल्टर नाइल नहीं थे। हालांकि ये पहले से ही तय था कि कूल्टर नाइल इस मुकाबले में नहीं खेलेंगे लेकिन गंभीर ने कूल्टर नाइल के बदले जिस खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन में जगह दी उसने सभी को हैरान कर दिया। कोलकाता की टीम में डैरेन ब्रावो चुने गए जिनका स्ट्राइक रेट ज्यादा खास नहीं है। ब्रावो सिर्फ 111.90 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं लेकिन फिर भी गौतम गंभीर ने ब्रावो को आईपीएल डेब्यू करा दिया। ये भी पढ़ें-आईपीएल 10, मैच 30, राइजिंग पुणे सुपरजायंट बनाम कोलकाता नाइट राइडर्स का स्कोरकार्ड

वैसे कोलकाता नाइट राइडर्स के खेमे से बड़ी खबर पुणे सुपरजायंट की टीम से आई। पुणे सुपरजायंट की टीम ने कोलकाता के खिलाफ मुकाबले के लिए बेन स्टोक्स को प्लेइंग इलेवन में नहीं चुना। स्टीव स्मिथ ने इसकी वजह स्टोक्स के पूरी तरह फिट ना होना बताया। स्टोक्स की जगह बल्लेबाज फाफ ड्युप्लेसी को जगह दी गई। आपको बता दें कोलकाता के लिए कूल्टर नाइल और पुणे के लिए बेन स्टोक्स ने पिछले मैच में मैन ऑफ द मैच जीता था। दोनों ने अपने प्रदर्शन से अपनी-अपनी टीम को जीत दिलाई थी लेकिन संजोग देखिए अगले ही मैच में ये दोनों ही खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं हुए।