नीतीश राणा  © BCCI
नीतीश राणा © BCCI

मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेले गए मुकाबले को मुंबई इंडियंस ने 4 विकेट से अपने नाम कर लिया। इसके साथ ही मुंबई की ये लगातार दूसरी जीत है, तो वहीं हैदराबाद के विजय अभियान पर ब्रेक लग गया और टीम को तीसरे मैच में पहली हार झेलनी पड़ी। मुंबई ने 18.4 ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर ही लक्ष्य का पीछा कर लिया। मुंबई की तरफ से नीतीश राणा ने बेहतरीन बल्लेबाजी की और शानदार (45) रनों की पारी खेली। नीतीश के अलावा क्रुणाल पांड्या ने नाबाद (37) और पार्थिव पटेल ने ताबड़तोड़ 24 गेंदों में 7 चौकों की मदद से 39 रनों की पारी खेली। हालांकि हैदराबाद की तरफ से राशिद खान (4-0-19-1) और भुवनेश्वर कुमार (4-0-21-3) ने काफी कसी हुई गेंदबाजी की, लेकिन उनका ये प्रयास टीम को जीत नहीं दिला सका। 159 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और टीम को 28 के कुल योग पर पहला झटका लग गया। जोस बटलर (14) को पहले विकेट के रूप में आशीष नेहरा ने आउट किया। सनराइजर्स हैदराबाद बनाम मुंबई इंडियंस के मैच का लाइव ब्लॉग पढ़ने के लिए क्लिक करें

इसके बाद बल्लेबाजी के लिए आए रोहित शर्मा को राशिद खान ने सिर्फ (4) रन पर पवेलियन भेज, हैदराबाद को मैच में बनाए रखा। लेकिन दो विकेट गिर जाने के बाद भी पार्थिव पटेल और नीतीश राणा ने टीम पर दबाव नहीं आने दिया और खुलकर बल्लेबाजी की। दोनों ने टीम के स्कोर को 50 के पार पहुंचा दिया। जब पार्थिव अर्धशतक की तरफ बढ़ रहे थे, तभी उन्हें दीपक हुड्डा ने अपना शिकार बनाया। पार्थिव ने आउट होने से पहले (39) रनों की पारी खेली। पार्थिव के आउट होने के बाद पोलार्ड और राणा ने रन रेट को गिरने नहीं दिया और दोनों ने स्कोर को 100 के पार पहुंचा दिया। हालांकि इसी बीच भुवनेश्वर कुमार ने पोलार्ड (11) को आउट कर टीम को चौथी सफलता दिला दी।

हालांकि इस विकेट का मुंबई पर कुछ ज्यादा फर्क नहीं पड़ा और क्रुणाल पांड्याने आते ही तेज बल्लेबाजी की। पांड्या ने पहले राशिद खान की गेंद पर छक्का जड़ा और फिर उन्होंने नेहरा की लगातार गेंद पर एक छक्का और एक चौका जड़कर अपने इरादे जाहिर कर दिए। क्रुणाल पांड्या यहीं नहीं रुके और अगला ओवर फेंकने आए बेन कटिंग की दूसरी गेंद पर छक्का, तीसरी गेंद पर चौका और पांचवीं गेंद पर चौका जड़कर अपनी टीम की जीत सुनिश्चित कर दी। हालांकि 18वां ओवर करने आए भुवनेश्वर ने क्रुणाल को (37) रनों पर आउट कर टीम को पांचवीं सफलता दिला दी। इसी ओवर में भुवनेश्वर ने नीतीश को (45) रनों के योग पर आउट कर टीम को एक और सफलता दिला दी, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। अंत में हरभजन और हार्दिक पांड्या ने अपनी टीम को 4 विकेट से जीत दिला दी।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी हैदराबाद की टीम को दोनों सलामी बल्लेबाजों ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई। वॉर्नर और धवन ने मुंबई के गेंदबाजों के खिलाफ जमकर रन बनाए और अर्धशतकीय साझेदारी की। ये जोड़ी और खतरनाक होती, उससे पहले ही हरभजन सिंह ने वॉर्नर को आउट कर मुंबई को पहली सफलता दिला दी। आउट होने से पहले वॉर्नर ने 34 गेंदों में 49 रनों की पारी खेली, उन्होंने अपनी पारी में 7 चौके और 2 छक्के ठोके। इसके बाद धवन और दीपक हुड्डा ने टीम के स्कोर को 100 के पार पहुंचा दिया। लेकिन तभी हुड्डा को भी (9) रन के निजी स्कोर पर आउट कर हरभजन ने अपना और टीम के लिए दूसरा विकेट हासिल किया। हैदराबाद की टीम इन झटकों से संभल पाती की मैक्कलेंघन ने धवन को भी आउट कर हैदराबाद को तीसरा बड़ा झटका दे दिया। ये भी पढ़ें: जब ओवर करने के दौरान फिसल कर गिर पड़े हार्दिक पांड्या, थम गईं सबकी सांसें

धवन ने 43 गेंदों में 48 रन बनाए, इस दौरान उन्होंने 5 चौके और एक छक्का लगाया। अब हैदराबाद को बड़े स्कोर पर ले जाने की जिम्मेदारी युवराज सिंह और बेन कटिंग पर आ गई। लेकिन युवराज अच्छी लय में नजर नहीं आए और वो 7 गेंदों में 5 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद बेन कटिंग ने कुछ अच्छे शॉट लगाए लेकिन बुमराह ने उन्हें ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिकने दिया और कटिंग को आउट कर बुमराह ने अपना पहला विकेट हासिल किया। कटिंग ने 10 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 20 रन बनाए। कटिंग के बाद मलिंगा ने अगले ओवर में विजय शंकर को (1) आउट कर अपनी टीम को छठी सफलता दिला दी।

विकेटों के गिरने का सिलसिला यहीं नहीं रुका और आखिरी ओवर की पहली गेंद पर बुमराह ने नमन ओझा को (9) पर आउट कर टीम को सातवीं सफलता दिला दी। उसी ओवर की चौथी गेंद पर बुमराह ने राशिद खान को भी आउट कर दिया और अपना तीसरा विकेट हासिल किया। आखिरी दो मलिंगा और बुमराह ने काफी कसी हुई गेंदबाजी की और ओवर में कुल 11 रन दिए और 3 विकेट झटके। हैदराबाद की तरफ से दोनों सलामी बल्लेबाज अर्धशतक से चूक गए और डेविड वॉर्नर (49), तो वहीं शिखर धवन (48) रन बनाकर पवेलियल लौट गए। वहीं मुंबई की तरफ से जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए (3), हरभजन सिंह ने (2) विकेट झटके।