डेनियल विटोरी © AFP
डेनियल विटोरी © AFP

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें सीजन में अब तक खेले गए 5 में से केवल 1 मैच में जीत हासिल करने वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम के कोच डेनियल विटोरी का कहना है कि इस प्रदर्शन का कारण किसी भी मैच से पहले प्लेइंग इलेवन के चयन में संतुलन की कमी है। रविवार (16 अप्रैल) को बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए मैच में राइजिंग पुणे सुपरजायंट ने बैंगलोर टीम को 27 रनों से हराया। इस हार के कारण बैंगलोर आईपीएल की आठ टीमों की अंकतालिका में सबसे नीचे 8वें स्थान पर है। ये भी पढ़ें-विराट कोहली का कैच देखकर हर क्रिकेट फैन रह गया सन्न !

पुणे के खिलाफ रविवार को खेले गए मैच से पहले बैंगलोर की टीम में दो बदलाव किए गए थे। क्रिस गेल की जगह शेन वॉटसन को और तबीयत खराब होने के कारण टाइमल मिल्स के स्थान पर एडम मिल्न को शामिल किया गया था। इस कारण बैंगलोर की बल्लेबाजी असंतुलित हो गई। कोच विटोरी ने कहा, “बात ये है कि इस वक्त हम आईपीएल में सही संतुलन की तलाश कर रहे हैं। मुंबई के खिलाफ मैच में हमारे पास एक गेंदबाज कम था। पिछले काफी समय से वॉटसन टी-20 में एक सफल हरफनमौला खिलाड़ी रहे हैं। इसलिए, हमने वॉटसन को वापस लाने का फैसला किया।” विटोरी ने कहा, “टी-20 क्रिकेट में सभी के लिए चीजें मुश्किल हैं। हम जानते हैं कि क्रिस एक अच्छे खिलाड़ी हैं। इस स्तर पर हम टीम में सही संतुलन की तलाश कर रहे हैं।”

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को अपना अगला मुकाबला गुजरात लायंस के खिलाफ 18 अप्रैल को खेलना है। ये मैच गुजरात के घरेलू मैदान राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम में रात 8 बजे खेला जाएगा। देखते हैं कि इस मैच में बैंगलोर की टीम किन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरती है।