इमरान ताहिर और स्टीवन स्मिथ © AFP
इमरान ताहिर और स्टीवन स्मिथ © AFP

आईपीएल-10 में रॉयल चैलेंजर्स बैंलगोर और राइजिंग पुणे सुपरजायंट के बीच खेले गए मुकाबले को पुणे ने 61 रनों से अपने नाम कर लिया। 158 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बैंगलोर की टीम कभी भी मैच में नहीं दिखी और 20 ओवरों में 9 विकेट खोकर सिर्फ 96 रन ही बना सकी। पुणे की तरफ से इमरान ताहिर ने (3), लॉकी फर्ग्यूसन ने (2), तो जयदेव उनादकट, डेनियल क्रिश्चियन और वॉशिंगटन सुंदर ने 1-1 विकेट झटका। बैंगलोर की तरफ से सिर्फ विराट कोहली ही संघर्ष कर सके और उन्होंने (55) रनों की पारी खेली। बैंगलोर बनाम पुणे के लाइव ब्लॉग को पढ़ने के लिए क्लिक करें

लक्ष्य का पीछा करने उतरी बैंगलोर की शुरुआत खराब रही और टीम का पहला विकेट मात्र 11 रनों पर ही गिर गया। पहले विकेट के रूप में ट्रेविस हेड (2) को उनादकट ने आउट कर टीम को पहली सफलता दिला दी। तीसरे नंबर पर खेलने उतरे डीविलियर्स से टीम को काफी उम्मीदें थीं, लेकिन लॉकी फर्ग्यूसन ने डीविलियर्स का बड़ा विकेट झटटकर बैंगलोर की कमर तोड़कर रख दी। वहीं रही सही कसर जाधव के रन आउट ने पूरी कर दी। टीम के 5 विकेट मात्र 48 रनों पर ही गिर गए। इस दौरान सिर्फ कोहली ही डटकर खेल सके और उन्होंने अपना अर्धशतक पूरा किया। हालांकि अंत में कोहली को डेनियल क्रिश्चियन ने अपना शिकार बनाकर बैंगलोर की हार तय कर दी। बैंगलोर की तरफ से 9 खिलाड़ी दहाई के आंकड़े को भी नहीं छू सके और टीम को मुकाबला 61 रनों से हारना पड़ा।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पुणे ने 20 ओवरों में 157/3 का स्कोर बनाया। पुणे की तरफ से कप्तान स्टीवन स्मिथ ने (45), मनोज तिवारी ने (44), सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी ने (37) और धोनी ने (21) रनों की पारी खेली। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पुणे की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 18 रन के कुल योग पर टीम को पहला झटका लग गया। पहले विकेट के रूप में अजिंक्य रहाणे (6) रन बनाकर पवेलियन लौटे।

इसके बाद स्मिथ और त्रिपाठी ने स्कोर को आगे बढ़ाया और दोनों ने अच्छे स्ट्रोक खेले। दोनों बल्लेबाजों ने टीम का स्कोर 50 के पार पहुंचा दिया। टीम अभी अच्छी स्थिति में दिख ही रही थी कि त्रिपाठी को नेगी ने जाधव के हाथों कैच करा अपनी टीम को दूसरी सफलता दिला दी। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए मनोज तिवारी के साथ स्मिथ ने पारी को आगे बढ़ाया और तेजी से रन बनाए। स्मिथ जब अपने अर्धशतक से सिर्फ 5 रन दूर थे, तभी उन्हें स्टुअर्ट बिन्नी ने आउट कर दिया और बैंगलोर को तीसरी सफलता दिला दी। स्मिथ के आउट होने के बाद तिवारी ने धोनी के साथ मिलकर स्कोर को आगे बढ़ाया। दोनों ही बल्लेबाजों ने टीम के स्कोर को 150 के पार पहुंचा दिया और बैंगलोर के सामने जीत के लिए 158 रनों का लक्ष्य रखा।