युजवेंद्र चहल © BCCI
युजवेंद्र चहल © BCCI

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की गेंदबाजी का सबसे अहम हिस्सा हैं। चहल बेहद ही आक्रामक स्पिनर हैं और उनकी लाइन लेंथ शानदार है जिसके दम पर वो हमेशा विरोधी बल्लेबाजों को पैवेलियन की राह दिखाते हैं। पिछले 3 सीजन से युजवेंद्र चहल आरसीबी के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं और अपने इसी दमदार प्रदर्शन की बदौलत ही उन्होंने भारतीय टी-20 टीम में भी जगह बनाई।

भारतीय टीम के लिए भी युजवेंद्र ने अपनी फिरकी से शानदार प्रदर्शन किया। इंग्लैंड के खिलाफ बेंगलुरू टी 20 में युजवेंद्र ने 4 ओवर में सिर्फ 25 रन देकर 6 विकेट हासिल किए जो कि टी-20 में किसी भी भारतीय का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। फिलहाल युजवेंद्र चहल आईपीएल 10 में अपनी टीम आरसीबी को जीत दिलाने के लिए जोर लगा रहे हैं। वैसे युजवेंद्र की टीम 3 में से दो मैच गंवा चुकी है लेकिन फिर भी उन्हें उम्मीद है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर पिछले सीजन की तरह इस बार भी अच्छा प्रदर्शन करेगी, और उनका प्रदर्शन भी शानदार रहेगा। ये भी पढ़ें-विराट कोहली हुए फिट, बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने की पुष्टि

युजवेंद्र चहल ने आरसीबी के ही एक खास इंटरव्यू में कहा ‘मैं हमेशा ही अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करता हूं। इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में लिए 6 विकेट मेरे करियर के लिए बेहद खास हैं। जब भी मुझ में नकारात्मकता आती है तो मैं अपने उस प्रदर्शन को देखता हूं और मुझे अच्छा प्रदर्शन करने की प्रेरणा मिलती है।’

युजवेंद्र ने अपनी सफलता का श्रेय आरसीबी को ही दिया, उन्होंने कहा ‘आरसीबी ने मेरी जिंदगी बदल कर रख दी। जब भी मैं बैंगलोर आता हूं मुझे लगता है कि ये मेरा दूसरा घर है। यहां के लोग मुझे बहुत प्यार करते हैं चाहे हम जीतें या हारें लोग हमारे साथ रहते हैं। आरसीबी टीम मेरे लिए एक परिवार की तरह है। टीम में सब मिल-जुलकर भाइयों की तरह रहते हैं ऐसा माहौल नहीं होता कि ये खिलाड़ी बहुत महान खिलाड़ी है।’

आपको बता दें युजवेंद्र चहल भारत के लिए शतरंज वर्ल्ड कप में भी खेल चुके हैं। युजवेंद्र ने खुलासा किया कि क्रिकेट खेलने के लिए ही उन्होंने शतरंज में भारत का प्रतिनिधित्व किया था। ‘2002 में मैंने शतरंज की नेशनल चैंपियनशिप जीती और 2003 में मैंने भारत के लिए वर्ल्ड कप में हिस्सा लिया। दरअसल मेरे पिता जी चाहते थे कि मैं घर से बाहर ना जाऊं इसीलिए उन्होंने मुझे शतरंज खिलाया लेकिन बाद में उन्होंने कहा कि अगर तुम भारत की शतरंज टीम में आओगे तो मैं तुम्हें क्रिकेट खेलने दूंगा। ‘

इंटरव्यू के दौरान युजवेंद्र ने खुलासा किया कि अगर विराट कोहली अच्छा गा सकते हैं और शेन वॉटसन अच्छा गिटार बजा सकते हैं तो वो उन गानों पर डांस अच्छा कर सकते हैं। साथ ही युजवेंद्र ने कहा कि उन्हें पार्टी करना, दोस्तों के साथ कार में घूमना, मस्ती करना बहुत पसंद है। वो जितने आक्रामक मैदान पर नजर आते हैं मैदान के बाहर युजवेंद्र इससे काफी अलग हैं।