अंपायर सी के नंबर, नितिन मेनन ©BCCI
अंपायर सी के नंदन, नितिन मेनन ©BCCI

इंडियन प्रीमियर लीग में जहां 8 टीमें जबर्दस्त प्रदर्शन कर रही हैं वहीं दूसरी ओर मैदान पर खड़े अंपायर मैच दर मैच गलती कर रहे हैं। कभी गलत एलबीडब्ल्यू आउट देना तो कभी आउट होते हुए भी बल्लेबाज को नॉट आउट देना ऐसी तस्वीरें आए दिन हर मैच में ही दिख रही हैं, लेकिन आईपीएल के 10वें मैच में तो हद ही हो गई। सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस के मुकाबले के दौरान अंपायरों से इतनी बड़ी गलती हो गई जो शायद ही कभी क्रिकेट के इतिहास में हुई हो।

दरअसल सनराइजर्स हैदराबाद की बल्लेबाजी के दौरान छठे ओवर की आखिरी गेंद पर डेविड वॉर्नर ने चौका लगाया लेकिन ओवर खत्म होने के बाद वॉर्नर एक बार फिर अगले ओवर की गेंद पर बल्लेबाजी करने चले गए। मैच में अंपायरिंग कर रहे सी के नंदन और नितिन मेनन ने वॉर्नर की इस गलती पर ध्यान नहीं दिया। यहां तक कि थर्ड अंपायर वाई सी बद्री ने भी मैदान में खड़े अंपायरों को इसकी जानकारी नहीं दी और वॉर्नर ने 7वें ओवर की पहली गेंद खेल डाली। [ये भी पढ़ें: प्रिव्यू: जीत की राह में लौटने को बेताब केकेआर]

आपको बता दें आईपीएल 10 के लगभग हर मुकाबले में भारतीय अंपायर गलतियां कर रहे हैं। वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए पिछले मैच में भी अंपायर नितिन मेनन और सी के नंदन के फैसलों पर सवाल खड़े हुए थे। नितिन मेनन ने मुंबई के बल्लेबाज जोस बटलर को गलत एलबीडब्ल्यू आउट करार दिया था वहीं सी के नंदन ने मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा को एलबीडब्ल्यू आउट दिया जबकि गेंद उनके बल्ले का बड़ा किनारा लेकर गई थी।