चेतेश्वर पुजारा © IANS
चेतेश्वर पुजारा © IANS

भारत के टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के लिए यह घरेलू सत्र शानदार रहा था। हालांकि इसके बाद भी उन्हें आईपीएल में खेलने का मौका नहीं मिला। पुजारा जिनका बेस प्राइस 50 लाख था फरवरी में आयोजित आईपीएल दस के नीलामी सेशन में नहीं बिक पाए। अब हालात ये हैं कि दसवें सत्र से एक एक करके कई शीर्ष खिलाड़ी बाहर हो चुके हैं। ऐसे में टीमों को कई नए खिलाड़ियों की जरूरत पड़ेगी। पुजारा जो कि पिछले सीजन किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेले थे इस साल भी आईपीएल में जगह बना सकते हैं। टीम इंडिया में पुजारा के जोड़ीदार मुरली विजय कंधे में चोट के चलते इस बार पंजाब टीम से बाहर रहेंगे। पुजारा शीर्ष क्रम के बेहतरीन बल्लेबाज हैं और इस सीजन में भारत के शीर्ष रन स्कोरर भी वही हैं।

इस बार सबसे बड़ा झटका लगा है दिल्ली डेयरडेविल्स टीम को, पहले जे पी ड्यूमिनी और फिर क्विंटन डी कॉक भी इस सीजन से बाहर हो गए। ऐसे में पुजारा बढ़िया विकल्प साबित हो सकते हैं। नियमों के मुताबिक कोई भी टीम बाहर हुए विदेशी खिलाड़ी के स्थान पर एक भारतीय खिलाड़ी को टीम में शामिल कर सकती है। वहीं दूसरी ओर लंबे घरेलू सीजन के बाद कई भारतीय खिलाड़ी चोट और थकान के कारण आईपीएल से बाहर हो गए हैं। इनमें सबसे पहला नाम कप्तान विराट कोहली का है जो कि कंधे की चोट की वजह से इस आईपीएल में रॉयल चैलेंजर बैंगलौर के शुरुआती मैच में नजर नहीं आएंगे। [ये भी पढ़ें: आईपीएल शुरू होने से पहले चेन्नई पहुंचे महेंद्र सिंह धोनी]

कोहली के टीम से बाहर होने पर कप्तानी की जिम्मेदारी एबी डिविलियर्स पर आती है लेकिन खबरों के मुताबिक उनका भी आईपीएल दस में शामिल होना अनिश्चित है। वहीं बैंगलौर टीम के एक और विस्फोटक बल्लेबाज के एल राहुल भी अपनी इंजरी के कारण इस सीजन से बाहर रहेंगे।