विराट कोहली और एबी डीविलियर्स © AFP
विराट कोहली और एबी डीविलियर्स © AFP

राइजिंग पुणे सुपरजायंट के हाथों मिली करारी शिकस्त का असर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली के चेहरे पर साफ नजर आ रहा था। इसी कारण कोहली का कहना था कि टीम के ऐसे प्रदर्शन के बाद एक कप्तान के लिए कुछ भी कहना मुश्किल होता है। कोहली ने कहा, “मुझे लगता कि ऐसे प्रदर्शन के बाद एक कप्तान के लिए कोई भी टिप्पणी करना मुश्किल होता है। हालांकि हमें ऐसे अनुभवों से सबक लेकर आगे बढ़ना चाहिए। हमने इस मैच को बुरी तरह हारा है।” ये भी पढ़ें: बैंगलोर का घटिया प्रदर्शन जारी, पुणे ने 61 रनों से धोया

कोहली ने आगे कहा, “इस हार के पीछे कुछ भी कारण हो सकते हैं। फिर चाहे वो उम्मीदें हों। लोगों को लगा था कि हमारी बल्लेबाजी अच्छी होगी, जैसे पिछले साल प्लेऑफ में रही। मैं किसी एक चीज पर दोष नहीं दे सकता। हम प्लेऑफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुके हैं। अब हम केवल एक ही चीज कर सकते हैं और वो है टूर्नामेंट में बाकी बचे चार मैंचों में खुलकर खेलना और अपने खेल का लुत्फ उठाना।” आपको बता दें कि आईपीएल-10 में पुणे ने बैंगलोर को 61 रनों से हरा दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पुणे ने बैंगलोर के सामने 158 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे बैंगलोर की टीम हासिल नहीं कर पाई और 20 ओवरों में केवल 96 रन ही बना सकी।

इस मैच में बैंगलोर के लिए कोहली ही सबसे ज्यादा (55) रनों की पारी खेल सके। कोहली के अलावा दूसरा कोई भी बल्लेबाज नहीं चल सका और टीम 61 रनों से मैच हार गई। बैंगलोर के लिए ये हार इसलिए भी शर्मनाक है क्योंकि टीम की बल्लेबाजी लगातार फ्लॉप हो रही है और टीम के लिए संकट का विषय बनी हुई है। इस मैच में भी टीम फिर से 100 रनों का आंकड़ा नहीं छू सकी।