गौतम गंभीर © BCCI
गौतम गंभीर © BCCI

कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर एकतरफ जहां क्रिकेट के मैदान पर अपने बल्ले से और कप्तानी से सभी का दिल जीत रहे हैं वहीं दूसरी ओर असल जिंदगी में भी वो एक हीरो बनकर उभर रहे हैं। दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मुकाबले में मैन ऑफ द मैच बनने के बाद कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर ने ऐलान किया कि वो आईपीएल 2017 में अपनी कमाई से सुकमा नक्सली हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के परिवार की मदद करेंगे। इससे पहले गौतम गंभीर ने शहीद 25 जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने का ऐलान भी किया था।

क्रिकेटर गौतम गंभीर के इस कदम की तारीफ देश भर में हुई है। यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ तो गौतम गंभीर के मुरीद हो गए हैं। योगी आदित्य नाथ ने ट्वीट किया है कि क्रिकेटर गौतम गंभीर पर देश को गर्व है, और ऐसे युवा देश के लोगों के प्रेरणा के पात्र हैं। योगी आदित्य नाथ ने गौतम गंभीर की तस्वीर लगाकर उसपर लिखा है, ‘भारतीय क्रिकेटर श्री गौतम गंभीर द्वारा सुकमा में शहीद हुए सीआरपीएफ के सभी 25 वीर जवानों के बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी एक अनुकरणीय पहल, भारतीय युवाओं के लिये प्रेरणा तथा ऐसे युवाओं पर देश को गर्व है। भारतीय क्रिकेटर श्री गौतम गंभीर पर देश को गर्व है।

आपको बता दें गौतम गंभीर सुकमा में सीआरपीएफ जवानों की हत्या से बेहद आहत हैं। एक अखबार में उन्होंने कॉलम लिखकर कहा, ‘बुधवार सुबह मैंने अखबार उठाया तो दो शहीद सीआरपीएफ जवानों की बेटियों की तस्वीरें देखी। एक अपने शहीद पिता को सल्यूट कर रही थी, जबकि दूसरी तस्वीर में रिश्तेदार युवती को सांत्वना दे रहे थे।’

गंभीर ने खुलासा किया था कि सुकमा की घटना के बाद से वो आईपीएल मैच पर अपना ध्यान नहीं लगा पा रहे थे। बुधवार रात को राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के खिलाफ मैच में गंभीर ने कलाई में काली पट्टी लगाकर सीआरपीएफ जवानों को सम्मान दिया था।