IPL 2018: Mumbai Indians current journey is similar to 2015 title winning season
रोहित शर्मा (फाइल फोटो) © AFP

लगातार हार से परेशान मुंबई इंडियंस की टीम ने आईपीएल 2018 के अपने सातवें मुकाबले में चेन्‍नई सुपर किंग्‍स को आठ विकेट से हराया। चेन्‍नई ने जीत के लिए 170 रनों का लक्ष्‍य दिया था। जवाब में मुंबई के केवल दो ही विकेट गिरे। कप्‍तान रोहित शर्मा ने 33 गेंदों पर 56 रन की नाबाद अर्धशतकीय पारी खेली। जिसकी मदद से मुंबई ने चेन्‍नई पर आसान जीत दर्ज की। मुंबई की सात मैचों में ये दूसरी जीत है। इसके साथ ही वो अंकतालिका में आखिरी स्‍थान से दो स्‍थान उपर आ गई है। अब सबसे निचले पायदान पर दिल्‍ली और उससे एक स्‍थान ऊपर  बैंगलोर की टीम है।

मौजूदा समय में मुंबई इंडियंस के लिए चीजें कुछ उसी तरह से घट रही हैं जैसे साल 2015 में घटी थी। उस सीजन में रोहित शर्मा की कप्‍तानी में मुंबई ने आईपीएल खिताब पर कब्‍जा किया था। साल 2015 में मुंबई ने अपने पहले छह मुकाबलों में केवल एक जीत दर्ज की थी। जिसके बाद सातवें मैच से मुंबई की जीत का सिलसिला ऐसा शुरू हुआ जो आईपीएल टाइटल उठाने के बाद ही रुका।मुंबई का मौजूदा सीजन अबतक साल 2015 जैसा ही रहा है। पहले छह मैचों में उसे एक जीत मिली है। अब सातवें मुकाबले में उसने चेन्‍नई को आठ विकेट से हराया है। ऐसे में मुंबई के फैन्‍स ये उम्‍मीद कर रहे होंगे कि साल 2015 की तरह इस बार भी मुंबई की टीम आगे अच्‍छा प्रदर्शन करेगी और आईपीएल खिताब पर कब्‍जा करेगी।

इस सीजन में मुंबई का सफर
पहले मैच में चेन्‍नई ने मुंबई को एक विकेट से हराया। दूसरे मैच में मुंबई को हैदराबाद से भी एक विकेट से हार का सामना करना पड़ा। तीसरे मैच में दिल्‍ली ने मुंबई पर सात विकेट से जीत दर्ज की। हालांकि चौथे मैच में मुंबई ने 213 रन ठोक दिए। जवाब में बैंगलोर की टीम 167 रन पर ही ढेर हो गई और मुंबई को 46 रन से पहली जीत मिली।इसके बाद  22 अप्रैल को राजस्‍थान ने मुंबई को तीन विकेट से हराया। 24 अप्रैल को हैदराबाद की टीम ने 118 रन का छोटा लक्ष्‍य दिया, मुंबई इस लक्ष्‍य को भी नहीं बना पाई और 87 रन पर ऑल आउट हो गई। जिसके बाद अपने सातवें मुकाबले में मुंबई को अब चेन्‍नई पर आठ विकेट से जीत मिली है।