IPL 2018: Young guys like Hardik Pandya needs to work harder, says MI coach Mahela Jayawardene
महेला जयवर्धने © AFP

तीन बार आईपीएल खिताब जीत चुकी मुंबई इंडियंस के लिए 11वां सीजन बद से बदतर होता जा रहा है। मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ घरेलू मैदान पर 31 रनों से मिली शर्मनाक हार के बाद मुंबई इंडियंस को हर तरफ से आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। रोहित शर्मा, कायरान पोलार्ड, एविन लुईस और हार्दिक पांड्या जैसे बल्लेबाजों से सजी ये टीम 119 रन का मामूली लक्ष्य नहीं हासिल कर सकी और 87 के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। मैच के बाद टीम के कोच और पूर्व श्रीलंकाई खिलाड़ी महेला जयवर्धने ने हार पर निराशा जताई।

IPL 2018: सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 31 रनों से हारी मुंबई इंडियंस, ट्विटर पर उड़ा मजाक
IPL 2018: सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 31 रनों से हारी मुंबई इंडियंस, ट्विटर पर उड़ा मजाक

जयवर्धने ने कहा, “आज मैं निराश हूं। कुछ मैच जो हम हारे थे, मुझे लगा था कि वहां हमने अच्छा क्रिकेट खेला था। वो किसी भी पक्ष में जा सकते थे, ये टी20 क्रिकेट है। इस मैच में हम ये सोचकर खेल रहे थे कि मैदान पर ओस होगी और हमे केवल बल्ला घूमाना होगा। हमने जिम्मेदारी से बल्लेबाजी नहीं की, इसलिए ये काफी निराशाजनक है। ओस 10 ओवर के बाद आई जैसा कि हम पहले से जानते थे लेकिन किसी ने टिककर जिम्मेदारी से बल्लेबाजी नहीं की।”

मुंबई इंडियंस के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “हमने आज अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया। हमने उनके अहम गेंदबाजों के खिलाफ रिस्क लेने की जरूरत नहीं थी। हमने कुछ गेंदबाजों को चुनकर उन्हें अटैक करना था। भुवी की गैरमौजूदगी में वो अपनी पूरी ताकत के बिना खेल रहे थे, उनका अटैक युवा था और हमे इसका फायदा उठाना चाहिए थे इसलिए हमने बेहद खराब प्रदर्शन किया।”

कप्तान रोहित शर्मा के अलावा पोलार्ड और हार्दिक जैसे बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। इस बारे में बात करते हुए जयवर्धने ने कहा, “हर साल आप एक तरह से बल्लेबाजी नहीं कर सकते हो, अगर आप सुधार करके बेहतर नहीं बनते हैं तो विकास का मौका नहीं हो पाएगा। हार्दिक जैसे युवा इसे समझेंगे और ज्यादा मेहनत करेंगे, केवल प्रतिभा आपको कहीं लेकर नहीं जाएगी।” मुंबई इंडियंस को अगला मैच चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 28 अप्रैल को खेलना है।